नई दिल्ली: कोरोना वायरस की ‘दूसरी लहर’ देशभर में तबाही मचा रही है. फिलहाल देशवासियों कोरोना के डबल म्यूटेंट वैरिएंट चिंता से जूझ रहे थे. लेकिन अब कोरोना के एक नए स्वरूप B.1.618 या ट्रिपल म्यूटेंट ने चिंताएं बढ़ा दी हैं. यह वैरिएंट पश्चिम बंगाल में बड़े स्तर पर देखा जा रहा है. जानकार संभावना जताते हैं कि वायरस का यह प्रकार अन्य रूपों की तुलना में ज्यादा संक्रामक हो सकता है. जानकार फिलहाल इसके बारे में जानकारी जुटा रहे हैं.

ख़बरों के मुताबिक, वायरस के इस प्रकार की जानकारी नाम में ही है. ऐसा कहा जा रहा है कि इसमें वायरस के तीन म्यूटेशन शामिल हैं. ट्रिपल म्यूटेंट वैरिएंट को भारत में पहचान में आई SARS-CoV-2 की दूसरी लाइनेज कहा जा सकता है. इसे B.1.618 कहा जा रहा है और यह ज्यादातर पश्चिम बंगाल में फैल रहा है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कोरोना का यह प्रकार कितना खतरनाक है, इस बात की सही जानकारी अभी तक सामने नहीं आई है.सामने आ रही जानकारी के मुताबिक, एक्सपर्ट्स के हवाले से कहा जा रहा है कि यह दूसरे वैरिएंट्स के मुकाबले ज्यादा संक्रामक है. एनडीटीवी को दिए इंटरव्यू में डॉक्टर मधुकर पई ने कहा था ‘यह और ज्यादा तेजी से फैलने वाला वैरिएंट है. यह लोगों को जल्दी बीमार बना रहा है.’