शांति के लिए PM मोदी ने दिए पांच सिद्धांत, जिनपिंग ने कहा- हम साथ

0
55

वुहान : प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी इस समय चीन की ऐतिहासिक यात्रा पर है. कल चीन के वुहान में PM मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के बीच तीन बार मुलाकात हुई. सबसे पहले शी जिनपिंग ने हुबई म्यूजियम में प्रोटोकॉल तोड़कर PM मोदी का स्वागत किया. दोनों ने यहाँ करीब एक घंटा म्यूजियम में बिताया. इसके बाद डेलिगेशन स्तर की बातचीत हुई, जिसका समय 30 मिनट तय था, लेकिन यह दो घंटे तक चली.डेलिगेशन बातचीत के दौरान मोदी ने चीन के सामने 21वीं सदी के पंचशील की नई व्याख्या पेश की. इस दौरान प्रधानमन्त्री ने कहा कि, अगर हम समान विजन, मजबूत रिश्ते, साझा संकल्प, बेहतर संवाद और समान सोच के पांच सिद्धांतों वाले पंचशील के इस रास्ते पर चलें तो इससे विश्वशांति, स्थिरता और समृद्धि आयेगी. शी जिनपिंग ने भी मोदी की बात का समर्थन करते हुए कहा कि मोदी के बताए पंचशील के इन नए सिद्धांतों से प्रेरणा लेकर भारत के साथ सहयोग एवं काम करने को तैयार है.इसके अलावा PM मोदी ने शी जिनपिंग का स्वागत करते हुए कहा कि, मैं पहला ऐसा भारतीय प्रधानमंत्री हूं, जिसकी अगवानी के लिए शी जिनपिंग दो बार राजधानी से बाहर आए. इससे मैं गौरवान्वित महसूस कर रहा हूँ. इस अनौपचारिक शिखर वार्ता के लिए आपने बहुत ही सकारात्मक वातावरण बनाया है. इसमें आपका व्यक्तिगत तौर पर बहुत बड़ा योगदान है. मैं हृदय से बहुत ही प्रशंसा करता हूं.’बता दे कि आज प्रधानमंत्री मोदी और शी जिनपिंग ईस्ट लेक के किनारे टहलते हुए चर्चा करेंगे. इसके बाद दोनों नेता नाव की सवारी करेंगे. शनिवार को लंच के दौरान भी दोनों नेताओं की मुलाकात होगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here