MP Weather : प्रदेश में फिर उफान पर नदी-नाले, 9 जिलों में आने वाले 24 घंटों में भारी बारिश का अलर्ट जारी

भोपाल मौसम विभाग के अनुसार प्रदेश में आज कई जिलों में भारी बारिश की एक बार फिर से संभावना बन रही है। इसके साथ ही प्रदेश के कई इलाकों में गरज चमक के साथ में बिजली गिरने के भी न्यूनतम संभावना है।

मध्य प्रदेश (MP) में बारिश की गतिवधि एकबार फिर अपना प्रभाव दिखा रही है। प्रदेश के विभिन्न संभागों के कई जिलों में बीते कई दिनों से हो रही लगातार बारिश से एक बार फिर प्रदेश के सभी नदी और नाले उफान पर देखे जा सकते हैं। जहां राज्य में अलग अलग जिलों में हो रही इस लगातार बरिश से प्रदेश के नदी नालों का जल स्तर बढ़ा है, वहीं लगातार हो रही बारिश से प्रदेश के तापमान में भी हल्की कमी और मौसम नमी भी महसूस की जा रही है। इसके साथ ही प्रदेश के कई इलाकों में तेज और ठंडी हवाओं की गतिविधि भी देखी जा सकती है।

Also Read-हिमाचल प्रदेश : PM Modi करेंगे आज मंडी में महागर्जना रैली में मन की बात, करीब 20 मिनट चलेगा संबोधन

इन नो जिलों में है बारिश का यलो अलर्ट

भोपाल मौसम विभाग के अनुसार प्रदेश में आज कई जिलों में भारी बारिश की एक बार फिर से संभावना बन रही है। इसके साथ ही प्रदेश के कई इलाकों में गरज चमक के साथ में बिजली गिरने के भी न्यूनतम संभावना है। आगर, शाजापुर, श्योपुर, गुना, शिवपुरी, नीमच, मंदसौर, धार, खरगोन में भारी बारिश का यलो अलर्ट भोपाल मौसम विभाग ने जारी किया है।

Also Read-आश्विन कृष्णा चतुर्दशी live darshan : कीजिए देशभर के प्रमुख मंदिरों के मंगला दर्शन

भोपाल और इंदौर में रहेगा ये हाल

मौसम विभाग के अनुसार प्रदेश की राजधानी भोपाल और व्यवसायीक राजधानी इंदौर में आज दोपहर बाद से सामान्य से कुछ तेज बारिश की संभावना है इसके साथ ही इन दोनों संभागों के सभी जिलों में आज ठंडी हवाएं चलने की भी संभावना है, जिनकी गति भी अच्छी खासी रह सकती है। हालांकि इन दोनों संभागों के जिलों में अति बारिश की संभावना से मौसम विभाग का इंकार है।

कुछ दिन और रहेगा ये मौसम

भोपाल मौसम विभाग के अनुसार मध्य प्रदेश में अभी कुछ दिन और बारिश की गतिविधियां देखी जा सकती है। उल्लेखनीय है कि इस वर्ष देश में बनने वाले मानसून के इतर वेदर सिस्टम्स ने सबसे अधिक मध्य प्रदेश की बारिश को ही प्रभावित किया है, जिससे प्रदेश में इस वर्ष सामान्य से अधिक वर्षा दर्ज की गई है, आने वाले कुछ दिनों तक और ये वेदर सिस्टम प्रदेश के मौसम को प्रभावित करेंगे।