MP Board: 10वीं के छात्रों के लिए बोर्ड ने लिया बड़ा फैसला, पासिंग नियमों में किया जा रहा है यह बदलाव

माध्यमिक शिक्षा मंडल की ओर से 10वीं के छात्रों को लेकर एक बड़ा फैसला लिया गया है. बोर्ड की ओर से छात्रों को पास किए जाने के नियमों में बड़ा बदलाव किया जाने वाला है.

MP Board: माध्यमिक शिक्षा मंडल यानी एमपी बोर्ड (MPBSE) की 10वीं के छात्रों के लिए एक बड़ी खबर सामने आई है. बोर्ड ने एक फैसला लिया है, जिसके मुताबिक नए सत्र से बेस्ट ऑफ फाइव (Best Of Five) योजना बंद की जा रही है. माना जा रहा है कि इस योजना को बंद करने के आदेश जल्द ही जारी किए जाएंगे. अगर यह नियम लागू हो जाएगा तो छात्रों का सभी विषयों में पास होना जरूरी हो जाएगा. बता दें कि लगातार बिगड़ते रिजल्ट को लेकर बोर्ड ने यह फैसला लिया है.

Must Read- MP Weather Forecast : दिल्ली सहित इन इलाकों में हो सकती है भारी बारिश, गर्मी से मिलेगी राहत

साल 2017 में मध्य प्रदेश सरकार की ओर से बेस्ट ऑफ फाइव (Best Of Five) योजना लागू की गई थी. इस योजना के तहत एमपी बोर्ड (MP Board) की कक्षा 9वीं और 10वीं के स्टूडेंट 6 सब्जेक्ट की एग्जाम देते हैं, इनमें से अगर वह 5 सब्जेक्ट में पास हो जाते हैं, तो उनके नंबर 5 सब्जेक्ट के आधार पर तय किए जाते है. जिन 5 सब्जेक्ट में सबसे ज्यादा नंबर होते हैं उन्हें ही रिजल्ट में जोड़ा जाता है. वहीं अगर एक सब्जेक्ट में स्टूडेंट फेल हो जाए तो उसे पास कर दिया जाता था. स्कूल शिक्षा विभाग की ओर से फैसला इसलिए लिया गया था ताकि दसवीं के रिजल्ट में सुधार लाया जा सके. इससे रिजल्ट में सुधार तो आया लेकिन बच्चों की नींव कमजोर होने की वजह से वह इंग्लिश और गणित जैसे विषयों में पिछड़ने लगे.

Must Read- Bihar: पेशी के लिए लाया गया बम, पटना कोर्ट में हुआ ब्लास्ट

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक माध्यमिक शिक्षा मंडल ने बेस्ट ऑफ फाइव योजना (Best Of Five) को बंद करने का प्रस्ताव स्कूल शिक्षा विभाग को भेजा है, जिसके बाद शिक्षा मंत्री ने इसे बंद करने पर अपनी सहमति जता दी है. कहा जा रहा है कि जल्द ही इस योजना के बंद होने का आदेश जारी किया जा सकता है.