MP: कोरोना के दौरान बर्ड फ्लू की दस्तक, प्रशासन ने लिया यह कदम

भोपाल। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस का कहर देश से हटने से पहले ही बर्ड फ्लू ने एक बार फिर दस्तक देदी है। गौरतलब है कि, फिलहाल कोरोना की तीसरी लहर (Corona Third Wave) का खौफ लोगों को डरा रहा है। इस कड़ी में अब मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में एक नई मुसिबत देखने को मिल रही है। जी हाँ आपको बात दें कि, एमपी में बर्ड फ्लू (Bird Flu) का खतरा जो बढ़ता दिख रह है हालांकि अभी तक इससे इंसान को किसी तरह का खतरा नहीं है। लेकिन प्रदेश में हालात खराब ना हों, इसे सुनिश्चित करने के लिए सरकार और प्रशासन ने एक्शन मोड ऑन कर लिया है।

ALSO READ: Indore: मानवता की मिसाल, अंगदान के लिए 42 वीं बार बना ग्रीन कॉरिडोर

आपको बता दें कि एमपी पशुपालन और डेरी डिपार्टमेंट के अपर मुख्य सचिव जे.एन.कंसोटिया ने शीत ऋतु पर खास नज़र रखते हुए बर्ड फ्लू के खिलाफ सतर्कता बरतने के लिए दिशानिर्देश जारी किए हैं। साथ ही इस पूरे मामले में कलेक्टों से कहा गया है कि केन्द्र शासन की एवियन इन्फ्लूऐंजा एक्शन प्लान 2021 वेबसाइट www.dahd.nic.in पर उपलब्ध गाइड-लाइन के अनुसार कार्रवाई सुनिश्चित करें।

पशुपालन, वन, स्वास्थ्य और अन्य समन्वयक विभागों की बैठक कर जिले की तैयारियों का आंकलन किया। उन्होंने बताया की किस तरह से शीत ऋतु में प्रवासी पक्षी बर्ड फ्लू फैलाने का काम करते हैं और इसी को देखते हुए हमें किसी भी प्रकार की लापरवाही नहीं बरतनी हैं। बता दें कि, प्रवासी पक्षियों और दूसरे राज्यों से लगने वाले सीमावर्ती जिलों के चिकन मार्केट, हाट-बाजार से सेम्पल इकट्ठा कर उसे जांच के लिये तुरंत भोपाल के स्टेट एनिमल डिजीज इन्वेस्टीगेशन लैब भेजने के आदेश दिए गए हैं।