नए कानून से घट रही मोदी की लोकप्रियता, पीएम पद के लिए राहुल बन रहे दूसरी पसंद: रिपोर्ट

0

नई दिल्ली। मोदी सरकार ने अपने दूसरे कार्यकाल के शुरु होते ही कई अहम फैसले लिए जैसे तीन तलाक, जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाना और नागरिकता संशोधन अधिनियम। मोदी सरकार के इन फैसलों को जनता ने इतनी आसानी से स्वीकार नहीं किया। लिहाजा आप देख सकते हैं कि देश में आज भी कई स्थानों पर सीएए और एनआरसी का विरोध जारी है। ऐसे में सरकार के इस कानून से जनता नाखुश है।

वहीं मीडिया रिपोर्ट की माने तो यदि वर्तमान स्थिति में लोकसभा चुनाव होते हैं, तो मोदी सरकार को इसमें झटका लग सकता है। सर्वे के अनुसार सरकार के फैसले के बाद मोदी सरकार की लोकप्रियता में खासी कमी आई है। बदलती राजनीति के चलते शिवसेना भी अब भाजपा से अलग हो गई है। सर्वे के अनुसार बीजेपी 303 सीटों से घटकर 271 सीटों पर सिमट सकती है तो वहीं एनडीए को सिर्फ 303 सीटों पर ही जीत मिलने की संभावना है।

इसका फायदा कांग्रेस को सबसे ज्यादा हो रहा है। कांग्रेस के नेतृत्व वाले यूपीए को फायदा हो सकता है। यूपीए 93 सीटों से बढ़कर 108 सीटों तक पहुंच सकती है। वहीं अन्य दलों की बात करे तो इनकी सीटों की संख्या 97 से बढ़कर 132 तक पहुंच सकती है।

सर्वे में प्रधानमंत्री के चेहरे को लेकर भी बात की गई इसके अनुसार प्रधानमंत्री पद के लिए नरेंद्र मोदी सबसे ज्यादा 53 फीसदी लोगों की पहली पसंद बने हुए हैं, जबकि13 फीसदी लोगों की पसंद के साथ राहुल गांधी दूसरे और 7 फीसदी लोगों की पसंद के साथ कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी तीसरे नंबर और चार फीसदी लोगों की पसंद के साथ अमित शाह चैथे नंबर पर हैं।