मालविका फाइनल में हारकर इटालियन अंतरराष्ट्रीय स्पर्धा में उपविजेता

इस बार वेन की जीत और आसान रही, मालविका ने भारत की ही तान्या हेमंत को सेमीफाइनल में तीन गेमों में हराया था, भारत की ही ईरा शर्मा क्वार्टर फाइनल खेली, वह भी वेन से ही पराजित हुई।

भारत की मालविका बंसोड़ इटालियन अंतरराष्ट्रीय चैलेंज बैडमिंटन स्पर्धा में महिला एकल फाइनल हारकर उपविजेता रही, इटली के मिलान में 2 से 5 जून तक हुई इस स्पर्धा में विश्व नंबर 53 मालविका बंसोड़ को पहला क्रम मिला था। आज फाइनल में विश्व नंबर 48 ताईपेई की वेन चि ह्सु ने मालविका को 21-9, 21-11 से 27मिनट में ही हरा दिया, दूसरे क्रम की वेन की मालविका पर यह दूसरी जीत हैं, दोनों के बीच पहला मुकाबला पिछले साल 3दिसम्बर को वेल्स अंतरराष्ट्रीय स्पर्धा में हुआ था, वेन ने पांचवें क्रम की मालविका बंसोड़ को 21-16,21-12से हराया था, इस बार वेन की जीत और आसान रही, मालविका ने भारत की ही तान्या हेमंत को सेमीफाइनल में तीन गेमों में हराया था, भारत की ही ईरा शर्मा क्वार्टर फाइनल खेली, वह भी वेन से ही पराजित हुई।

ताईपेई और इंडोनेशिया को दो-दो खिताब मिले, इंडोनेशिया के क्रिस्चियन आदिनाता ने डेनमार्क के मेग्नुस जोहनेसेन को 21-16, 21-15 से हराकर पुरुष एकल खिताब जीता, पुरुष युगल खिताब दक्षिण कोरियाई जोड़ी को मिला बैडमिंटन में खेलो इंडिया युवा खेल को बदरंग किया! इटालियन अंतरराष्ट्रीय स्पर्धा की वजह से ही पंचकुला हरियाणा में हो रहे खेलो इंडिया युवा खेलों 2021 में बैडमिंटन में अनेक वाकओवर और नो मैच हुए, अदिति भट्ट, आशी रावत, मानसी सिंह, तान्या हेमंत, समिया इमाद फारुखी के साथ ही ट्रेसा जोली, गायत्री गोपीचंद, मेघना रेड्डी, कीर्ति भारद्वाज,एस कविप्रिया, अनुपमा उपाध्याय, जान्हवी कानिटकर भी नहीं खेली।

Must Read- MP के यात्रियों के साथ यमुनोत्री हाईवे पर हुआ बड़ा हादसा, 15 की मौत

प्रणव राव गंधाम,संकर मुथुसामी, जयंत राणा, वरुण कपुर लड़कों में नहीं खेले और मुकाबले को बदरंग कर दिया, भारतीय बैडमिंटन संगठन को इनसे जवाब तलब करना चाहिए कि जब ये सालभर खेलों इंडिया की सुविधाएं लेते हैं तो, साल की एक स्पर्धा में क्यों नहीं खेले! जननी अनंतकुमार बिना कोई मैच खेले एवं उन्नति हूडा और खुशी ठक्कर दूसरे दौर का मैच खेले बिना क्वार्टर फाइनल में आई , चुनिंदा खिलाड़ियों के बीच भी लड़कों में दो खिलाड़ी वाक ओवर से क्वार्टर फाइनल में आए हैं, 4 से 7 जून तक हो रहे बैडमिंटन मुकाबले में खिलाड़ियों से तो दुगने से अधिक बैडमिंटन आफिशियल्स नजर आ रहे हैं।
सिंधु, लक्ष्य और प्रणोय से उम्मीदें: साइना और समीर भी दो सप्ताह के बाद विश्व बैडमिंटन महासंघ की सुपर टूर स्पर्धाओं का सिलसिला 7 जून से शुरु हो रहा हैं, पहले दो स्पर्धा इंडोनेशिया और दो मलेशिया एवं एक सिंगापुर में होगी, पी वी सिंधु, लक्ष्य सेन, समीर वर्मा आदि जकार्ता आज पहुंच गए हैं, जकार्ता में 7 से 12 जून तक इंडोनेशिया मास्टर्स सुपर-500 और 14 से19 जून तक इंडोनेशिया खुली सुपर-1,000 स्पर्धा है, क्वालालम्पुर में 28जून से 3जुलाई तक मलेशिया खुली सुपर-750 और 5 से 10जुलाई तक मलेशिया मास्टर्स सुपर-500 स्पर्धा हैं, सिंगापुर में 12 से 17 जुलाई तक सिंगापुर खुली सुपर -500 स्पर्धा होगी,19 से 24 जुलाई तक योनेक्स ताईपेई खुली सुपर-300 स्पर्धा भी है।

विश्व नंबर 7, पूर्व विश्व विजेता पी वी सिंधु ने बताया कि वे राष्ट्रमंडल खेलों से पहले दो माह में सुपर टूर की 5 स्पर्धाओं में हिस्सेदारी करेगी, यह काफी टफ शेड्यूल है, मैं अपना श्रेष्ठ देखने की पूरी कौशिश करुंगी, सिंधु पिछली तीन स्पर्धाओं कोरिया खुली, एशियाई बैडमिंटन स्पर्धा और थाईलैंड खुली स्पर्धा में सेमीफाइनल खेली हैं, इंडोनेशिया मास्टर्स में चौथे क्रम की सिंधु का क्वार्टर फाइनल आठवें क्रम की थाईलैंड की रत्चनोक इन्तेनान से और सेमीफाइनल दूसरे क्रम की दक्षिण कोरिया की एन से युंग से संभावित हैं सिंधु और विश्व नंबर 23 साइना नेहवाल, दोनों को पहले दौर में डेनिश खिलाड़ी क्रमशः लिने क्रिस्टोफेर्सेन और लिने होजमार्क कजरसफेल्ड से खेलना हैं, पूर्व विश्व विजेता स्पेन की करोलिना मारिन सुपर स्पर्धाओं में वापसी कर रही है, करोलिना का दूसरे दौर का मैच साइना नेहवाल से ही संभावित हैं।

Must Read- Salman को मिला धमकी भरा लेटर, “Sidhu Moose Wala जैसा कर देंगे हाल”

सातवें क्रम के लक्ष्य सेन और एच एस प्रणोय को भी पहले दौर में डेनिश खिलाड़ी क्रमशः अनुभवी हेंस क्रिस्टेन सोलबर्ग विट्टिंघुस और रासमुस जेम्के से खेलना हैं ,ये भारतीय जीते तो, दूसरे दौर में आपस में ही खेलेंगे, इनके साथ ही समीर वर्मा भी निचले हाफ में ही हैं,समीर क्वालिफायर से खेलेंगे, समीर के बड़े भाई राष्ट्रीय विजेता सौरभ वर्मा खेलने नहीं गए हैं जिन्हें योग्यता चक्र में पहला क्रम मिला है, और मुख्य चक्र में सीधे प्रवेश पा सकते थे, महिला एकल में भारत की आकर्षी कश्यप को योग्यता चक्र में दूसरा क्रम है, विश्व उपविजेता किदांबी श्रीकांत एवं सात्विक सांईराज रैंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी अगली इंडोनेशिया खुली स्पर्धा से खेलेंगे।