स्वच्छ सर्वेक्षण अवार्ड में एक बार फिर इंदौर ने बाजी मारी ली है। बीतें पांच सालों से लगातार छठी बार देश के ‘सबसे स्वच्छ शहर’ का खिताब हासिल किया है। इंदौर सफाई के मामले में देश में नंबर वन शहर बना हुआ है। इंदौर के लिए ही नहीं बल्कि पूरे मध्यप्रदेश के लिए बहुत ही हर्ष का पल था जब दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम से राष्ट्रपति मुर्मू ने इंदौर को लगातार छठी बार सबसे स्वच्छ शहर के ख़िताब से नवाजा।

इसी उम्मीद के साथ महापौर पुष्यमित्र भार्गव ने शहर से इस जीत का अलग जश्न मनाने की अपील की थी। उन्होंने पत्र जारी कर इसके लिए दो सुझाव दिए थे। भार्गव ने शहर के लोगों से अपील करते हुए कहा था कि अभी नवरात्रि का समय है। गरबों का उल्लास है। एक अक्टूबर को यदि इंदौर स्वच्छता में फिर से बाजी मारता है तो उस दिन सभी गरबा पंडालों में स्वच्छता गान पर गरबे कराए जाएं, इससे देशभर में एक अनूठा संदेश दे सकेंगे। स्वच्छता गान की रिकॉर्डिंग निगम आप तक पहुंचा देंगे।

Also Read : आज 4 बजे स्वच्छता अवार्ड लेकर इंदौर आएंगे जनप्रतिनिधि और अफसर

इसी के साथ इंदौर ने स्वच्छ सर्वेक्षण अवार्ड में छक्का मार दिया है। जिसके चलते सफाई मित्रों का गरबा पंडालों पर ही सम्मान किया गया। क्योंकि ये सफाई मित्र दिन-रात, ठंड-बरसात-धूप में मेहनत कर अवॉर्ड दिला रहे हैं। ये हमारा गौरव बढ़ा रहे हैं, इनके प्रति कृतज्ञता व्यक्त करने का ये भी एक तरीका है। खास बात तो यह है कि सफाई कर्मियों के साथ मालिनी भाभी ने भी गरबा खेला।