Black Taj: मध्यप्रदेश की खूबसूरती का दीदार करने के लिए लाखों सैलानी विदेशों से आते हैं। मध्यप्रदेश में ऐसी बहुत सी खूबसूरत जगह मौजूद है जहां की खूबसूरती आपको और कहीं देखने को नहीं मिलेगी। इन स्थानों को फेमस हिल स्टेशन के रूप में भी जाना जाता है। लेकिन कुछ पुरानी कला कृति ऐसी भी हैं जिन्हें बहुत कम लोग जानते हैं। आज हम आपको मध्य प्रदेश के एक ऐसे ही काले ताज महल के बारे में बताने जा रहे है।

जिसका दीदार करने के लिए दूर दूर से लोग पहुंचते हैं। इसका इतिहास भी काफी चर्चाओं में रहा है। प्यार की निशानी कहे जाने वाले आगरा के ताजमहल को तो सब जानते हैं। लेकिन मध्यप्रदेश के बुरहानपुर से 4 किलोमीटर दूर मौजूद इस काले ताजमहल के बारे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं। जिसके बारे में ज्यादातर लोगों को जानकारियां नहीं है। लेकिन यहां अपने आप में काफी अलौकिक है।

दरअसल, इस काले ताजमहल को शाहनवाज खान का मकबरा भी कहा जाता है। जिसे जहांगीर ने जीत के बाद शाहनवाज के लिए बनवाया था। इस ताजमहल को बनाने के लिए काले पत्थरों का इस्तेमाल किया गया है। इस वजह से यह काला नजर आता है। लेकिन खूबसूरती के मामले में यह किसी से कम नहीं है। इसमें कई कलाकृतियां भी देखने को मिलती है। इसे 1612 ईस्वी में जहांगीर ने बनवाया था।

इतना ही नहीं काले ताजमहल के इतिहास के बारे में बताया जाता है कि इस मकबरे में शाहनवाज की पत्नी को भी दफनाया गया था। काले ताजमहल में आपको चार मीनार दिखाई देंगी। मध्यप्रदेश में बनाया काला ताजमहल काफी ज्यादा पॉपुलर है आपको यहां पर भी लोग देखने को मिल जाएंगे जो ताज का दीदार करने के लिए आते हैं।

इतना ही नहीं इसके आस पास काफी बड़ा गार्डन एरिया भी मौजूद है। जहां की खूबसूरती भी लोगों को काफी ज्यादा पसंद आती है। यदि आप भी मध्यप्रदेश की खूबसूरती का दीदार करने का मन बना रहे हैं तो आप एक बार बुरहानपुर से 4 किलोमीटर दूर मौजूद इस काले ताजमहल का दीदार जरूर करें यह भी काफी ज्यादा पॉपुलर है। इसकी खूबसूरती को निहारने के लिए दूर-दूर से लोग आते हैं।

Amrita Singh ने तलाक के लिए मांगी थी सैफ अली खान से इतनी मोटी रकम, छूट गए थे एक्टर के पसीने, कहा-मैं कोई शाहरुख खान नहीं जो….