लखीमपुर हिंसा ने पकड़ी आग, 18 अक्टूबर को रेल रोको आंदोलन का ऐलान

लखनऊ। उत्तरप्रदेश के लखीमपुर में हाल ही में हुआ बवाल दिन ब दिन आग पकड़ता जा रहा है। इसी कड़ी में अब किसानों के ऊपर जोर-जुल्म को लेकर किसान मोर्चा ने देशव्यापी आंदोलन का ऐलान किया है। इस मामले में अब किसान नेता जोगिंदर सिंह उगराहां ने आरोप लगाया कि सरकार ने प्रदर्शनकारी किसानों के खिलाफ हिंसक रुख अपनाया है। हम हिंसा की राह पर नहीं जाएंगे। उन्होंने कहा कि हमारी मांग है कि केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा और उनके बेटे आशीष को गिरफ्तार किया जाए।

ALSO READ: Video: Rubina Dilaik और Abhinav का रोमांटिक अंदाज, एक दूसरे की बाहों में आए नजर

साथ ही उन्होंने कहा कि, किसान नेता योगेंद्र यादव ने लखीमपुर खीरी हिंसा को लेकर केंद्रीय मंत्री को पद से हटाने और उनकी गिरफ्तारी की मांग उठाई है। उन्होंने कहा कि 15 अक्टूबर को दशहरा के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह का पुतला जलाया जाएगा। संयुक्त किसान मोर्चा के नेता योगेंद्र यादव ने कहा कि लखीमपुर खीरी हिंसा के विरोध में 18 अक्टूबर को ‘रेल रोको’ आंदोलन किया जाएगा।

किसान नेताओं ने कहा कि लखीमपुर खीरी घटना पहले से रची गई साजिश का हिस्सा है। उन्होंने (हमलावरों) ने किसानों को आतंकित करने की कोशिश की। किसान नेता दर्शन पाल ने कहा कि इस रवैये के खिलाफ किसान मोर्चा आगामी 26 अक्टूबर को लखनऊ में महापंचायत का आयोजन करेगा। सभी किसान नेताओं ने लखीमपुर की घटना में केंद्रीय गृह राज्यमंत्री के शामिल होने का आरोप लगाते हुए उन्हें पद से हटाने की मांग की।

गौरतलब है कि इस मामले में आज यानी शनिवार को घटना का प्रमुख आरोपी आशीष मिश्रा लखीमपुर क्राइम ब्रांच के सामने पेश हुआ। सुबह 11 बजे से पहले आशीष मिश्रा और उसके वकील क्राइम ब्रांच पहुंचे।