Home इंदौर न्यूज़ इंदौर फिर से पकड़ेगा रफ़्तार, बंगाली ब्रिज आज से होगा चालू

इंदौर फिर से पकड़ेगा रफ़्तार, बंगाली ब्रिज आज से होगा चालू

लम्बे इंतजार के बाद बंगाली ओवरब्रिज का उद्घाटन  आज मुख्यमंत्री द्वारा किया जा रहा है,

लम्बे इंतजार के बाद बंगाली ओवरब्रिज का उद्घाटन  आज मुख्यमंत्री द्वारा किया जा रहा है, उसके बाद से सुगम यातायात ब्रिज से शुरू हो जाएगा और दिनभर लगने वाले जाम से भी निजात मिलेगी। लोक निर्माण विभाग  द्वारा लगभग 30 करोड़ रुपए की राशि खर्च कर इस ब्रिज का निर्माण कराया गया है, लेकिन बाद में ड्राइंग-डिजाइन  को लेकर भी काम अटका रहा और उसके पहले कोरोना के कारण भी ब्रिज निर्माण  के काम में रूकावट आई। नतीजतन साढ़े 3 साल बाद ब्रिज का निर्माण पूरा हुआ। हालांकि कुछ कार्य अभी बाकी हैं, जो नगर निगम पूरे करेगा। फिलहाल तो अस्थायी बिजली कनेक्शन  से ब्रिज को रोशन किया गया है।

इंदौर विकास प्राधिकरण ने पीपल्याहाना ओवरब्रिज का निर्माण पूरा कर गत वर्ष उसका लोकार्पण भी करवा दिया। मगर बंगाली ब्रिज का काम ड्राइंग डिजाइन के चलते अटका रहा। उसके पहले स्व. माधवराव सिंधिया की प्रतिमा शिफ्टिंग में भी विलंब हुआ और कोरोना के कारण लगे लॉकडाउन के चलते भी निर्माण नहीं हो सका। बहरहाल, अब बंगाली ओवरब्रिज तैयार हो गया है। बीते कुछ दिनों से जनता ने हालांकि बिना लोकार्पण ही इसका इस्तेमाल शुरू कर दिया था और कांग्रेसियों ने भी चेतावनी दी थी कि अगर जल्द ही लोकार्पण नहीं हुआ तो बंगाली ब्रिज को खोल दिया जाएगा।

Also Read – मध्यप्रदेश में पुलिसकर्मियों को मिला प्रमोशन का तोहफा, देखें लिस्ट

नतीजतन कल एकाएक मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान को इंदौर दौरा तय हुआ। आज मुख्यमंत्री 4 बजे भोपाल से रवाना होकर साढ़े 4 बजे इंदौर एयरपोर्ट पहुंचेंगे और फिर तिरंगा यात्रा में शामिल होंगे, जो कि राजमोहल्ला स्थित भगतसिंह प्रतिमा से शुरू होगी। कल कलेक्टर मनीष सिंह ने विधायक महेन्द्र हार्डिया के साथ ओवरब्रिज का अवलोकन कर मुख्यमंत्री के कार्यक्रम के मद्देनजर की जाने वाली तैयारियों का जायजा लिया और संबंधित अधिकारियों को निर्देश भी दिए। तिरंगा यात्रा के बाद मुख्यमंत्री इस बंगाली ओवरब्रिज का लोकार्पण करेंगे। इसके बाद प्रेम नगर जाएंगे, जहां नागरिकों से उनकी भेंट होगी।

यह भी संभव है कि बंगाली ओवरब्रिज के नामकरण की घोषणा भी मुख्यमंत्री द्वारा आज कर दी जाए। बीते चार साल से ब्रिज निर्माण के चलते बंगाली चौराहा पर यातायात दोनों तरफ जाम होता था, क्योंकि इतना घना यातायात दोनों ओर के संकरे सर्विस रोड पर डायवर्ट कर रखा था। मगर अब इस ओवरब्रिज के चालू हो जाने से जाम की समस्या से निजात मिलेगी। लोक निर्माण विभाग ने ओवरब्रिज पर ग्राफिक्स कलर डिजाइन भी की है, वहीं ब्रिज के नीचे वॉकिंग ट्रैक और हॉकर झोन बनाने का भी विचार है। ब्रिज की लागत 30-31 करोड़ रुपए आई है।

Exit mobile version