HomeदेशIndore: ऑनलाईन ठगी पर पुलिस की कार्यवाही, किया पर्दा फार्श

Indore: ऑनलाईन ठगी पर पुलिस की कार्यवाही, किया पर्दा फार्श

इंदौर – दिनांक 26 अक्टूबर 2021-पुलिस उपमहानिरीक्षक श्री मनीष कपूरिया (शहर) इंदौर द्वारा लोगों से छलकपट कर अवैध लाभ अर्जित करते हुये आर्थिक ठगी करने वाले अपराधियों की पहचान कर, उनके विरुद्ध विधिसंगत कार्यवाही करते हुये उनकी धरपकड़ करने हेतु इंदौर पुलिस को निर्देशित किया गया। उक्त निर्देशो के तारतम्य में पुलिस अधीक्षक(मुख्यालय) इंदौर श्री अरविन्द तिवारी के मार्गदर्शन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (क्राईम ब्रांच) श्री गुरूप्रसाद पाराशर द्वारा ऑनलाईन ठगी की शिकायत की जांच हेतु विषेश टीमों का गठन किया गया है जिसमें रोजाना विभिन्न माध्यमों से शिकायत प्राप्त होती हैं।

इंदौर क्राइम ब्रांच द्वारा ऑनलाइन ठगी सायबर फ्राड के रोकथान मे सहायता हेतु सायबर हेल्पलाइन चलायी जा रही है जिसमे प्रतिदिन फोन के माध्यम से आवेदको द्वारा अपनी फ्रॉड संबंधी शिकायत दर्ज कराई जाती है। आवेदक योगेश पिता महेंद्र सिंह वर्मा के द्वारा क्राईम ब्रांच इंदौर द्वारा संचालित साइबर हेल्पलाइन पर फोन कर 1,15,999/- रूपये ठगी की शिकायत दर्ज कराई गई थी।

शिकायतकर्ता द्वारा हेल्पलाइन पर दर्ज शिकायत मे ,अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (अपराध शाखा) श्री गुरूप्रसाद पाराशर द्वारा तत्काल फ्राड इंन्वेस्टीगेशन सेल को कार्यवाही करने के लिये निर्देशित किया गया, फ्राड इंन्वेस्टीगेशन सेल टीम द्वारा आवेदक योगेश पिता महेंद्र सिंह वर्मा से फ्राड की संपुर्ण जानकारी लेकर जांच की, जिसमे ज्ञात हुआ कि आवेदक सोनिपत हरियाणा का रहने वाला था, जो कपंनी के ऑडिट से इंदौर आया था और इंदौर मे yatra.com के कस्टमर केयर नंबर को गुगल पर सर्च कर कॉल करने पर ठग से सपंर्क हुआ, ठग द्वारा आवेदक को झूठे विश्वास मे लेकर आवेदक के मोबाईल फोन पर TeamViewer application डाउनलोड करवाकर, आवेदक के मोबाईल का एक्सेस लेकर धोखाधडी कर आवेदक के 50,000/- रुपये से ठगों के व्दारा आवेदक के नाम से Hdfc bank की F.D. खोल ली गई थी, जिसमें ठगों के व्दारा अपना मोबाइल नं. लिंक किया था, एफडी को ठग कभी भी आवेदक की स्वीकृति के बिना मोबाइल नंबर की मदद से तुड़वाकर किसी भी खाते में स्थानांतरण कर सकते थे, और 65,999/- रुपये से ठगों के व्दारा आवेदक के एक्सेस मोबाईल फोन के amazon शापिंग एप से शापिंग का आर्डर कर किया गया था ।

क्राइम ब्रांच इंदौर की फ्राड इन्वेस्टीगेशन सेल के व्दारा अमेजन ऐप के अधिकारियों से समन्वय कर आँर्डर कैंसल करवाया और आवेदक के खाते में 65,999/- रुपये वापस जमा करवाया और एच.डी.एफ.सी बैंक के अधिकारियों से तत्काल संपर्क कर ठगों के व्दारा आवेदक के नाम से की गई एफडी को तुड्वाकर आवेदक के खाते में 50,000/- रुपये को वापस जमा करवाया गया, इस तरीके से आवेदक के खाते में कुल 1,15,999/- रुपये सकुशल वापस कराये गये । आवेदक द्वारा पैसे वापस प्राप्त करने पर इंदौर पुलिस द्वारा की गयी इस कार्यवाही की सराहना की व धन्यवाद दिया ।

सभी को सूचित किया जाता है की किसी भी अंजान व्यक्ति द्वारा फोन, मेसेज व सोशल मिडिया के माध्यम से सपंर्क कर बैंक खाता, क्रेडिट कार्ड, वालेट एवं यूपीआई पिन व पॉलिसी की जानकारी ना दे साथ ही किसी भी अंजान एप्पलीकेशन को डाउनलोड कर एक्सेस पासवर्ड शेयर न करे अन्यथा आप ठगी के शिकार हो सकते है, इस तरह की घटना की सूचना तुरंत अपने नजदीकी थाना पर दे या क्राइम ब्रांच इंदौर पुलिस द्वारा संचालित 704912जेड4445 पर सूचित करे।

RELATED ARTICLES

Stay Connected

9,992FansLike
10,230FollowersFollow
70,000SubscribersSubscribe

Most Popular