Indore News: खुडैल पुलिस की बड़ी कामयाबी, नाबालिक को अपहरणकर्ता से छुड़ाकर परिजनों से मिलवाया

इंदौर: पुलिस उप महानिरीक्षक इंदौर शहर मनीष कपूरिया द्वारा अपह्रत/गुमशुदा बालिकाओ के प्रकरण में गंभीरता एंव तत्परतापूर्वक दस्तयाब करने हेतु निर्देशित किया गया हैं।

इंदौर: पुलिस उप महानिरीक्षक इंदौर शहर मनीष कपूरिया (Manish Kapuriya) द्वारा अपह्रत/गुमशुदा बालिकाओ के प्रकरण में गंभीरता एंव तत्परतापूर्वक दस्तयाब करने हेतु निर्देशित किया गया हैं। उक्त निर्देशों के तारतम्य में पुलिस अधीक्षक (पश्चिम) इन्दौर महेश चंद जैन के मार्गदर्शन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (महू) पुनीत गेहलोद एंव उप पुलिस अधीक्षक (मुख्यालय) अजय वाजपेयी द्वारा सूचना संकलन कर अपह्रत/गुमशुदा बालिकाओ पतारसी कर दस्तयाब करने हेतु उचित दिशा निर्देश दिए गए हैं। जिसके अनुपालन में कार्यवाही करते हुए पुलिस थाना खुडैल (Khudel) द्वारा अपहृत की गई एक नाबालिग बालिका को दस्तयाब कर आरोपी को पकड़ने में सफलता प्राप्त की है।

दिनांक 10.11.2021 को फरियादी निवासी ग्राम अम्बामोलिया ने रिपोर्ट किया कि उसकी नाबालिक लडकी उम्र 16 साल को कोई अज्ञात व्यक्ति बहला फुसलाकर भगाकर ले गया है। रिपोर्ट पर से अपराध क्र.605/2021 धारा 363 भादवि का कायम कर विवेचना मे लिया गया। दौराने विवेचना प्रकरण की लगातार विवेचना की जाकर अपहर्ता की व संदेही की लोकेशन तकनीकी तौर पर प्राप्त की गई। जिसके आधार पर अपहर्ता को व संदेही की लोकेशन जिला सिवनी म.प्र की होना ज्ञात हुआ।

ये भी पढ़े – Indore News: भ्रष्टाचार के पोषक कर्मचारियों को दिया जा रहा है संरक्षण – संजय शुक्ला

उक्त जानकारी पर वरिष्ठ अधिकारीयो के आदेश प्राप्त कर अपहर्ता की दस्तयाबी हेतु टीम रवाना की गई। जो दिनांक 16.11.2021 को छिंदवाडा चौराहा जिला सिवनी म.प्र से अपहर्ता को दस्तयाब किया गया। अपहर्ता को परिजनो की सपुर्द किया। प्रकरण के आरोपी अभिषेक को गिरफ्तार कर माननीय न्यायालय के आदेश से जेल दाखिल किया गया है। पुलिस द्वारा अपहर्ता को आरोपी अभिषेक के कब्जे से दस्तयाब कर उसके परिजनो के सुपुर्द कर एक नाबालिक लडकी की जिन्दगी को बर्बाद होने से बचा लिया। इस प्रकार थाना खुडैल पुलिस द्वारा अपनी मेहनत, लगन से अपह्रत नाबालिक बालिका को अपहरणकर्ता के कब्जे से दस्तयाब किया जाकर उनके परिजनो के सुपुर्द करने में सफलता प्राप्त की।

उक्त सराहनीय कार्य मे निरी. महेन्द्र सिंह भदौरिया, उनि कृष्णा पद्माकर, आर.667 देवेद्र तिवारी, म.आर.ममता का महत्त्वपूर्ण योगदान रहा।