Indore : मध्य भारत के चिकित्सा क्षेत्र में शहर को मिली नई सौगात, ‘वी वन” हॉस्पिटल में होंगे ज्यादा एक्सपर्ट

मध्य भारत के मेडिकल हब इंदौर को बेहतरीन स्वास्थ्य सुविधाओं की सौगात मिलने जा रही है।

इंदौर(Indore) : मध्य भारत के मेडिकल हब इंदौर को बेहतरीन स्वास्थ्य सुविधाओं की सौगात मिलने जा रही है। उत्कृष्ट सेवाओं और भरोसेमंद इलाज के लिए एक ख़ास पहचान बनाने के उद्देश्य से ‘वी वन” हॉस्पिटल रविवार, 3 जुलाई 2022 से गीता भवन क्षेत्र में अत्याधुनिक सुविधाओं के साथ स्वास्थ्य सेवाएं शुरू करने जा रहा है। यहां मरीजों को इलाज के दौरान मेट्रो सिटीज के प्रसिद्ध अस्पतालों में दी जाने वाली सुविधाओं का अनुभव होगा। मरीजों के स्वास्थ्य और सुविधाओं को ध्यान में रखकर यहां सामान्य बीमारियों के लिए ओपीडी से लेकर अनुभवी डॉक्टरों द्वारा दुर्लभ बीमारियों की सर्जरी करने तक की उत्कृष्ट व्यवस्था की जा रही है।

कई सुविधाएं शहर में पहली बार

वी वन हॉस्पिटल के डायरेक्टर, ऑर्थोपेडिक एवं जॉइंट रिप्लेसमेंट सर्जन डॉ. प्रीतेश व्यास ने बताया कि अस्पताल शुरू करने का उद्देश्य एक अत्याधुनिक ट्रामा व इमरजेंसी सेंटर की जरूरत को पूरा करना है। शहर में पहले से कई हॉस्पिटल हैं जो इमरजेंसी केयर प्रदान कर रहे हैं, लेकिन हम संभवत: पहला ऐसा हॉस्पिटल बनने जा रहे हैं जिसमें इमरजेंसी केसेस को संभालने के लिए एक साथ एक ही छत के नीचे कई एक्सपर्ट मौजूद रहेंगे।

Read More : अब टप्पू को भी इस वजह से छोड़ना पड़ा ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’, ऐसे हुआ खुलासा

वी वन हॉस्पिटल के इमरजेंसी एक्सपर्ट्स में ट्रॉमा केयर में ऑर्थोपेडिक, न्यूरोलॉजी, कार्डियक, मैक्सिलोफेशियल, प्लास्टिक सर्जरी, रिहेबिलिटेशन और फिजियोथेरेपी के एक्सपर्ट भी शामिल किए गए हैं। वी वन क्षेत्र का पहला अस्पताल है, जिसमें इतने एक्सपर्ट इमरजेंसी परिस्थितियों में मरीजों के लिए विशेष सेवाएं देंगे। इतने एक्सपर्ट एक साथ होने का सबसे बड़ा फायदा यह होगा कि मरीज की गंभीर से गंभीर बीमारी जल्द से जल्द सामने आ जाएगी और कम से कम समय के इलाज से उसे दूर किया जा सकेगा।

विशेषज्ञताएं

वी वन हॉस्पिटल में ट्रॉमा केयर के साथ सामान्य चोंट, फ्रेक्चर से लेकर जटिल सर्जरी जैसे टोटल नी रिप्लेसमेंट, हिप रिप्लेसमेंट की सुविधाएँ अनुभवी एवं विशेषज्ञ सर्जन की टीम जिसमें डॉ. प्रीतेश व्यास, डॉ. दीपक मंत्री एवं डॉ. सहजप्रीत सिंह छाबड़ा शामिल हैं, के द्वारा उपलब्ध करवाई जाएगी। स्पोर्ट्स इंज्यूरी के विशेषज्ञ डॉ. तन्मय चौधरी चोट के उपचार और रोकथाम दोनों में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करेंगे। डॉ. अनुराग भार्गव क्रेनियोमैक्सिलोफेशियल कॉम्प्लेक्स की समस्याओं के इलाज की विशेषज्ञता और अनुभव के साथ मुंह, जबड़े, चेहरे, सिर और गर्दन के हिस्सों का इलाज यानि रिकंस्ट्रक्शन करेंगे।

Read More : MP Weather Today : इन जिलों में होगी जोरदार बारिश, IMD ने जारी किया येलो अलर्ट

जहां एक ओर न्यूरो सर्जन डॉ. प्रशांत नेवालकर मस्तिष्क की जटिल सर्जरी के लिए जिम्मेदार होंगे वहीँ दूसरी ओर हृदय रोगों से संबंधित बीमारियों के निदान एवं उपचार के लिए कैथ लैब में कार्डियोलॉजिस्ट डॉ. दीपेश कोठारी एंजियोग्राफी, एंजियोप्लास्टी आदि प्रोसीजर करेंगे। वी वन हॉस्पिटल के हेड एंड नेक सर्जन डॉ. नितिन तोमर कैंसर के उपचार के लिए आवश्यक जटिल ऑपरेशन करेंगे. इस तरह वी वन अस्पताल मरीजों के इलाज के लिए कई सुविधाएं ऐसी लेकर आ रहा है जो पहली बार किसी अस्पताल में उपलब्ध होगी।

विश्वस्तरीय डायग्नोस्टिक सेटअप

एक अस्पताल में मरीजों के अच्छे इलाज के लिए विशेषज्ञ डॉक्टर का होना जितना जरूरी होता है, जांच और इलाज के लिए अच्छे उपकरणों का होना भी उतना ही आवश्यक है। इसी को ध्यान में रखते हुए वी वन अस्पताल में विश्वस्तरीय डायग्नोस्टिक सेटअप तैयार किया गया है। छोटी से छोटी और बड़ी से बड़ी बीमारियों की सामान्य और विशेष जांच के लिए आधुनिक मशीनरी स्थापित की गई है। वी वन में थ्री टेस्ला एमआरआई, हाई एंड सीटी स्कैन, डीआर रेडियोलॉजी, डिजिटल मेमोग्राफी, सोनोग्राफी, टीएमटी, इको आदि के लिए नवीनतम उपकरण और अनुभवी स्टाफ नियुक्त किया गया है। साथ ही पैथोलॉजी और माइक्रोबायोलॉजी जांच की विश्वसनीय व्यवस्था की गई है।

पाँच ऑपरेशन थिएटर वाला 100 बेड का अस्पताल

डॉ. व्यास ने बताया कि मरीजों को आपात स्थिति में तत्काल राहत प्रदान करने के उद्देश्य से हॉस्पिटल में 5 ऑपरेशन थिएटर तैयार किए गए हैं। इनके साथ एक अत्याधुनिक कैथ लेब भी मौजूद है। भर्ती होने वाले मरीजों के लिए 100 बिस्तरों की व्यवस्था भी की गई है, जहाँ सर्व सुविधापूर्ण माहौल में मरीज स्वास्थ्य लाभ ले सकेंगे।

Source : PR