इंदौर के सांसद शंकर लालवानी पहले भावनगर और इन दिनों अहमदाबाद में भाजपा के लिए वोट मांग रहे है। सांसद लालवानी की सरलता और सहजता गुजरात के कार्यकर्ताओं को खूब रास आ रही है।नरोडा, मणिनगर आदि विधानसभाओं में चुनाव संपर्क चल रहा है । लालवानी पूरे होमवर्क के साथ अपनी बात रखना पसंद करते हैं इसलिए स्थानीय कार्यकर्ताओं, प्रत्याशी और विधानसभा प्रभारी से लोकल मुद्दों, जातिगत समीकरण, सामाजिक मसलों को समझते हैं और फिर अपनी बात रखते हैं।

शंकर लालवानी कार्यकर्ताओं के साथ ज़मीन पर बैठ जाते हैं, चाय-नाश्ते की दुकान पर आम लोगों के साथ चर्चा कर लेते हैं और सहज भाव से बड़े-छोटों से मिलते हैं। लालवानी का ये अंदाज कार्यकर्ताओं और आम लोगों को बहुत रास आ रहा है। सांसद लालवानी की जीत की कुछ बड़ी चीजों में शुमार होती है जनता कार्यकर्ता और समाज के लोग इनकी सक्रियता से काफी प्रभावित हैं उनकी बुद्धिमत्ता उनके इंजीनियर दिमाग और सुलझे व्यक्तित्व की वजह से सभी उन्हें सुनना और अनुसरण करना पसंद करते हैं।

दूसरी और युवाओं में भी उनका काफी प्रभाव है कई युवा कार्यकर्ता प्रत्याक्षियों के स्वागत के लिए अहमदाबाद की विधानसभाओं में तैयारियां कर रहे हैं । ऊर्जावान पीढ़ी को भारतीय जनता पार्टी की विचारधारा से जोड़ने का काम सांसद लालवानी करते हैं 5 दिसंबर को गुजरात के अंतिम सत्र के चुनाव सम्पन्न होने जा रहे है ।