Indore : इंदौर गौरव यात्रा को अनुमति देने से इनकार, CM के आगमन पर कांग्रेस करेंगी विरोध प्रदर्शन

इंदौर शहर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष विनय बाकलीवाल , विधायक संजय शुक्ला और विशाल पटेल ने बताया कि 31 मई को इंदौर गौरव दिवस के मौके पर कांग्रेस के द्वारा इंदौर गौरव यात्रा के आयोजन का ऐलान किया गया था।

इंदौर(Indore) : इंदौर गौरव दिवस(Indore Pride Day) के मौके पर कांग्रेस द्वारा इंदौर की गौरव पलक मुछाल (Palak Muchhal) का रोड शो गौरव यात्रा के रूप में आयोजित करने की अनुमति देने से इंकार कर दिया गया है। इसके लिए मुख्यमंत्री की इंदौर यात्रा को कारण बताया गया है। शासन के इशारे पर प्रशासन के द्वारा लिए गए इस फैसले का कांग्रेस विरोध करती है और मुख्यमंत्री के 31 मई को इंदौर आगमन के मौके पर विरोध प्रदर्शन करेंगी। इंदौर शहर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष विनय बाकलीवाल , विधायक संजय शुक्ला और विशाल पटेल ने बताया कि 31 मई को इंदौर गौरव दिवस के मौके पर कांग्रेस के द्वारा इंदौर गौरव यात्रा के आयोजन का ऐलान किया गया था।

हमने कहा था कि पूरे विश्व में कार्यक्रम प्रस्तुत करते हुए इंदौर का मान बढ़ा रही प्रसिद्ध गायिका पलक मुछाल को इंदौर बुलाकर एयरपोर्ट से उनकी उपस्थिति में इंदौर गौरव यात्रा निकाली जाएगी। यह यात्रा एयरपोर्ट से शुरू होकर बड़ा गणपति चौराहा फिर राजमोहल्ला चौराहा, जवाहर मार्ग, प्रिंस यशवंत रोड चौराहा होते हुए अहिल्या माता प्रतिमा पर पहुंचेगी। जहां मां अहिल्या का पूजन कर इस यात्रा को समाप्त किया जाएगा। इस यात्रा में इंदौर शहर की जनता भाग लेगी। इस आयोजन को अनुमति देने से इंकार कर दिया गया है। इस बारे में विधायक संजय शुक्ला को भेजे गए पत्र में कहा गया है कि 31 मई को शाम को 4:00 बजे बाद इस यात्रा के आयोजन का ऐलान किया गया है। उस समय पर वीआईपी आगमन रहेगा। अतः इस मार्ग पर इस समय पर इस यात्रा को अनुमति नहीं दी जा सकती है।

Read More : Amitabh Bachchan ने पोस्ट की अपने परिवार की तस्वीर, Abhishek Bacchan ने किया ऐसा कमेंट

कांग्रेस नेताओं ने इस अनुमति देने से इनकार किए जाने का विरोध किया है। यह फैसला शासन के इशारे पर इंदौर के प्रशासन के द्वारा लिया गया है । इंदौर की प्रतिभाओं को अपमानित करते हुए इंदौर के अतीत से लेकर वर्तमान तक के सफ़र से नावाकिफ कलाकारों को इंदौर बुलाकर उनका कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है। जब शासन की इस योजना का कांग्रेस ने विरोध करते हुए स्थानीय कलाकार के रूप में पलक मुछाल को आगे करते हुए कार्यक्रम के आयोजन का ऐलान किया, तो इस कार्यक्रम में इंदौर के लोगों की जोरदार उपस्थिति हो जाने की संभावना से हड़बड़ा कर इस आयोजन को अनुमति नहीं दी गई है।

Read More : Indore Pride Day : मालवा उत्सव में झलकी देशभक्ति की भावना, हुए रंगारंग कार्यक्रम

यह इंदौर की प्रतिभा के कार्यक्रम के आयोजन के प्रति शासन की बद नियति का प्रतीक है । कांग्रेस नेताओं ने कहा कि हम शासन प्रशासन के इस फैसले का विरोध करते हैं। इसके विरोध में 31 मई को मुख्यमंत्री के इंदौर आगमन के मौके पर मुख्यमंत्री के समक्ष प्रदर्शन करते हुए अपना विरोध अभिव्यक्त किया जाएगा। इसके साथ ही मुख्यमंत्री से यह मांग की जाएगी कि लाखों रुपए देकर दूसरे कलाकारों को बुलाकर इंदौर में कार्यक्रम कराने के बजाय ऐसे कलाकारों को बुलाया जाए जिनकी जन्मभूमि या कर्मभूमि इंदौर है। कांग्रेस कार्यकर्ता गण 31 मई को एयरपोर्ट थाने के सामने एकत्रित होंगे और वहां से जुलूस पूर्वक एयरपोर्ट पर जाकर मुख्यमंत्री के समक्ष विरोध प्रदर्शन करते हुए अपनी भावना से अवगत कराएंगे।