इंदौर(Indore) : कांग्रेस विधायक संजय शुक्ला ने कहा है कि भागीरथपुरा क्षेत्र के नागरिकों को उनके निर्माण को तोड़ने के पहले नगद मुआवजा दिया जाए । निगम के द्वारा दिए गए तोड़फोड़ के नोटिस के कारण समय में इस क्षेत्र के एक व्यक्ति की मौत हो गई है जबकि 2 लोगों को अटैक आ गया है । आवश्यकता इस बात की है कि नगर निगम शहर के नागरिकों के प्रति अपनी जवाबदेही को समझें ।

Read More : Rakul Preet Singh ने रेड बॉडीकॉन ड्रेस में चलाया हुस्न का जादू, हुई हद से ज्यादा बोल्ड

शुक्ला ने कहा कि इंदौर के मास्टर प्लान में प्रावधान की गई mr-4 सड़क के निर्माण के लिए नगर निगम के द्वारा बड़ी संख्या में नागरिकों को नोटिस दिए गए हैं । इस नोटिस में नगर निगम के द्वारा इन नागरिकों के निर्माण को तोड़ने का ऐलान किया गया है । नगर निगम इन गरीब वर्ग के नागरिकों को निर्माण तोड़कर बेघर और बेरोजगार करने में लगा हुआ है । नागरिकों का कहना है कि यदि उनके निर्माण को तोड़ा जाता है तो उन्हें नगद मुआवजा दिया जाए और साथ में वैकल्पिक स्थान भी निशुल्क उपलब्ध कराया जाए । नागरिकों की यह मांग पूरी तरह से जायज है । नगर निगम को इस मांग की पूर्ति के लिए कदम उठाना चाहिए । आवश्यकता इस बात की है कि नगर निगम जनता के प्रति अपनी जवाबदेही को समझें ।

Read More : Gold Silver Price Today : दीपावली के बाद सोने के भाव में आई गिरावट, जाने 10 ग्राम का भाव

शुक्ला ने कहा कि नगर निगम के द्वारा भागीरथपुरा क्षेत्र के नागरिकों को जबसे नोटिस बांटे गए हैं तबसे नागरिकों में डर और दहशत का माहौल बन गया है । इस नोटिस के सदमे के कारण एक नागरिक की मौत हो गई है, जबकि 2 नागरिकों को अटैक आ गए हैं यह घटना अपने आप में बहुत गंभीर है । इस घटना को नगर निगम को गंभीरता के साथ लेना चाहिए।