देशमध्य प्रदेश

अब दुनियाभर में भारतीय किसान बेच सकेंगे गेंहू, आलू, प्याज या चना, सांसद लालवानी की पहल

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान पर आत्मनिर्भर भारत बनाने के लिए ‘लोकल से वोकल’ और ‘लोकल से ग्लोबल’ के मंत्र को सांसद शंकर लालवानी ने कार्यरुप में ला दिया है। सांसद ने रेसीडेंसी कोठी पर इंदौर ज़िले के किसानों की एक बैठक बुलाई जिसमें कृषि उत्पादों को अंतरराष्ट्रीय बाजार में बेचने संबंधी विधानसभा स्तर पर प्रशिक्षण कार्यक्रम की चर्चा की गई।

‘किसान अपने गेंहू, आलू, प्याज़ या चना को दुनियाभर में बेच सकता है, भारत के दूतावास आपको सम्बंधित देश में खरीदार ढूंढने में मदद कर सकते हैं, सरकार एक्सपोर्ट के लिए सस्ता लोन देती है और सरकार पैसे की गारंटी भी देती है’ ऐसी कई जानकारी बैठक में दी गई जिसकी उपस्थित किसानों ने भरपूर तारीफ की।

सांसद लालवानी ने कहा कि ‘चीन द्वारा सीमा पर की जा रही हरकतों से बेहद आहत हूं और हमें अपने स्तर पर इसका जवाब देना चाहिए। प्रधानमंत्री की ‘लोकल से ग्लोबल’ की भावना के अनुरुप किसानों की आय दोगुनी करने एवं किसानों के उत्पादों को अंतरराष्ट्रीय बाजार में बेचने के लिए विधानसभावार प्रशिक्षण आयोजित करेंगे।’

इस बैठक में भाजपा नगराध्यक्ष गौरव रणदिवे एवं भाजपा संगठन से जुड़े कई पदाधिकारी उपस्थित थे। बैठक में आयात-निर्यात कारोबार के विशेषज्ञ राकेश अग्रवाल ने किसानों से बात की और प्रस्तावित कार्यक्रमों में भी वे ही प्रशिक्षण देंगे।