देश

कोरोना संक्रमण के मामले में मध्यप्रदेश की स्थिति में आया सुधार

भोपाल।जहा पूरी दुनिया कोरोना वायरस जैसी महामारी से जुंज रही है वही मध्य प्रदेश सर्कार का दवा है कि कोरोना संक्रमण के मामले में प्रदेश की स्तिथि देश के कई बड़े राज्यों से बेहतर है , स्तिथि सुधर रही है|  वहीं प्रदेश की सुधार दर 75.74 फीसद है, जो राजस्थान के 77.68 फीसद के बाद सर्वाधिक है। यह आंकड़े कोरोना की स्थिति और व्यवस्थाओं की समीक्षा में सामने आए।वही प्रदेश कोरोना के मामलो में आठवें से तेरवे स्थान पर पंहुचा|
वही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान शनिवार को मंत्रालय में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से समीक्षा की। मुख्यमंत्री ने भोपाल, इंदौर नगरीय क्षेत्रों में सर्वे पूरा करने और पिछले 24 घंटे में आए नए मामलों की समीक्षा करने को कहा। उन्होंने नीमच के जावद नगर में विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए। यहां फीवर क्लीनिक में लिए गए नमूनों में से 15 फीसद संक्रमित पाए गए। वही देवास में नोट बनाने की प्रेस के स्टाफ में बड़ी संख्या में संक्रमित मिलने पर चिंता जताई। बैठक में बताया गया कि पिछले 24 घंटे में 142 नए मामले सामने आए हैं। इनमें सक्रिय संक्रमित मामले चार हैं।
वही दूसरी ओर मुख्यमंत्री ने  समीक्षा में होशंगाबाद के प्रयासों और सुधार दर 82 फीसद से अधिक होने पर प्रसन्नता जताई। मुख्य सचिव स्वास्थ्य मोहम्मद सुलेमान ने बताया कि खंडवा मेडिकल कॉलेज में संक्रमण सुधार दर सर्वाधिक 92.83 फीसद है। इंदौर, जबलपुर, सागर, ग्वालियर, रीवा मेडिकल कॉलेजों में भी सुधार दर 70 से 85 फीसद है। यह बहुत ही रहत की बात है|