मध्य प्रदेश

इंदौर: चोइथराम मंडी में कल से आलू-प्याज बेच सकेंगे किसान

इंदौर: कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी मनीष सिंह ने धारा-144 के अंतर्गत पूर्व में जारी प्रतिबंधात्मक आदेश में संशोधन और विभिन्न बिन्दुओं का समावेश करते हुये देवी अहिल्याबाई होल्कर फल एवं सब्जी मंडी प्रांगण में आलू, प्याज (केवल लोकल) एवं लहसन के क्रय-विक्रय की सशर्त अनुमति दी है। इस संबंध में जारी आदेश के अनुसार कृषक अपने घर से प्रतिदिन सुबह 8 बजे से शाम 5 बजे तक प्याज, आलू (केवल लोकल) एवं लहसन बोरियों में ही पैक कर के लाएंगे। फल एवं सब्जी मंडी प्रांगण में केवल अनुज्ञप्तिधारी थोक/आढ़तिया व्यापारियों द्वारा ही उक्त प्याज, आलू एवं लहसन का क्रय-विक्रय किया जायेगा।

किसानों की उपज थोक/आढ़तिया व्यापारियों द्वारा नीलामी प्रक्रिया से विक्रय किया जायेगा। मण्डी में शासकीय नीलामी प्रतिबंधित रहेगी। फल एवं सब्जी से सम्बन्धित थोक /आढ़तिया व्यापारी, लोडर, हम्मालों का प्रवेश पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगा। यदि इनमें से कोई व्यक्ति अवैध रूप से घूमता पाया जायेगा तो थाना प्रभारी राजेन्द्र नगर द्वारा इनके विरूद्ध दण्ड प्रक्रिया की धारा 107/116, 151 के तहत दण्डात्मक कार्यवाही की जायेगी। मण्डी में अनावश्यक भीड़ न हो, इसलिए केवल एक कृषक के साथ एक वाहन चालक ही उपस्थित रहेगा।

खेरची व्यापार प्रतिबंधित रहेगा

कृषकों की उपज आढ़तिया/थोक व्यापारी द्वारा अपने दुकान के सामने ही विक्रय की जायेगी तथा आढ़तियों द्वारा लोडर व्यापारियों को भी दुकान पर ही रहकर उपज विक्रय की जाएगी। किसी भी प्रकार के खेरची व्यापारी एवं बगैर लायसेंसी व्यापारी को मंडी में प्रवेश की अनुमति नहीं रहेगी। इसी प्रकार उपभोक्ताओं/फुटकर/खेरची विक्रय का व्यापार प्रतिबंधित रहेगा। किसानों द्वारा माल जिन वाहनों में लाया जायेगा वह तत्काल खाली कर, वाहन मंडी प्रांगण से बाहर किये जाएंगे। दुकान के समक्ष व्यापारी/आढ़तियों द्वारा नमूने के लिये उपज का 01 कट्टा/बोरी रखा जायेगा एवं शेष माल निर्धारित स्थल (स्टेक) पर ही रहेगा। किसी भी प्रकार का ऑटो/लोडिंग रिक्शा खेरची व्यापार के उददेश्य से मंडी प्रांगण में प्रवेश नहीं करेगा केवल लोडर व्यापारी द्वारा प्रदेश के बाहर एवं अन्य स्थानों पर विक्रय हेतु उपज ट्रक/पिकअप वाहनों द्वारा ही भेजी जा सकेगी। इन वाहनों का मण्डी में प्रवेश बुकिंग के आधार पर ही रहेगा मंडी प्रांगण में अनावश्यक खाली वाहन एवं उनके ड्रायवर/क्लीनर खड़े नहीं रहेंगे। समस्त मंदी अधिकारी/कर्मचारी/व्यापारी/हम्माल/तुलावटियों के वाहन मंडी प्रांगण में स्थित निर्धारित पार्किंग स्थल पर रखे जाएंगे।

उक्त समस्त कार्यवाही का पर्यवेक्षण एवं समस्त व्यवस्थाओं के समन्वय हेतु सचिव मंदी मानसिंह मुनिया एवं सचिव मंडी पर्वत सिंह सिसौदिया को नियुक्त किया गया है। उक्त अधिकारी मौके पर उपस्थित रहकर उक्त कार्यवाही अपने समक्ष पूर्ण स्वास्थ्य सुरक्षा मापदण्डों का पालन करवाते हुये संपादित करवायेंगे। कृषक को अपने साथ ऋण-पुस्तिका/आधारकार्ड/उपज के आधार पर मण्डी प्रांगण तक आने एवं जाने की अनुमति रहेगी। उक्त समन्वयक अधिकारी प्रत्येक अनुज्ञप्तिधारी थोक/आढ़तिया व्यापारी को न्यूनतम कर्फ्यु पास उपलब्ध कराएंगे।

उक्त कार्य में लगे सभी व्यक्तियों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा। सभी व्यक्तियों को मास्क पहनना होंगा, सेनेटाईजर, ग्लब्स का उपयोग करना होगा। मास्क, ग्लब्स, सेनेटाईजर उपलब्ध कराने की जवाबदारी संबंधित नियोक्ता की होगी। आदेश का उल्लंघन करने पर भारतीय दण्ड विधान की धारा 188 के अंतर्गत कार्यवाही की जायेगी। शेष आदेश एवं उसमें समय-समय पर दी गयी छूट पूर्ववत लागू रहेगी। यह आदेश तत्काल प्रभाव से लागू हो गया है।

Related posts
देशमध्य प्रदेश

भटकते रहे प्रवासी मजदूर, किसी को नहीं मिला पैसा : कमलनाथ

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ का रतलाम के…
Read more
breaking newsscroll trendingदेशमध्य प्रदेश

शिवराज टीम में 14 ऐसे मंत्री जो विधायक भी नहीं

भोपाल। शिवराज सरकार का तीन महीने बाद…
Read more
देशमध्य प्रदेश

हर बार कांग्रेस के गढ़ में जीत दर्ज करने वाली उषा ठाकुर को मिली कैबिनेट में जगह

भोपाल: शिवराज कैबिनेट में उषा ठाकुर…
Read more
Whatsapp
Join Ghamasan

Whatsapp Group