अमेरिकादिल्लीदेशविदेश

चीन से सीमा पर बढ़ रहा तनाव, भारत के समर्थन में आया अमेरिका!

नई दिल्ली : लद्दाख और सिक्किम से सटी चीन की सीमा पर हो रही हलचल पर अमेरिका ने भारत का साथ देने का ऐलान किया है. अमेरिकी राजदूत ने कहा है कि “इस तरह के विवाद हमें चीन की ओर से पैदा हो रहे खतरे की याद दिलाते हैं.”

अमेरिकी विदेश मंत्रालय के प्रमुख एलिस वेल्स ने कहा, “चीन के उकसावे और परेशान करने वाले रवैये के खिलाफ एक जैसी सोच रखने वाले देश अमेरिका, भारत, ऑस्ट्रेलिया और आसियान सदस्य एक साथ आ गए हैं.”

बता दें कि अमेरिका की शीर्ष राजनियक ने अफगानिस्तान में भारत की भूमिका पर भी चर्चा की. उन्होंने कहा कि “यह फैसला नई दिल्ली को करना है कि वह तालिबान के साथ प्रत्यक्ष संपर्क में आना चाहता है या नहीं. काबुल की नई सरकार में तालिबान शामिल होने जा रहा है, ऐसे में भारत के लिए जरूरी है कि अफगानिस्तान की भावी सरकार के साथ उसके ‘स्वस्थ संबंध’ हों.”

बता दें कि भारत-चीन के बीच चल रहे तनाव के सवाल पर वेल्स ने कहा, “सीमा पर तनाव की घटनाएं इस बात को याद दिलाते हैं कि चीनी अतिक्रमण का खतरा असली है. चाहे वह दक्षिण चीन सागर हो या भारतीय सीमा, हम लगातार चीन की तरफ से उकसावे और तनाव बढ़ाने वाली हरकतें देखते हैं. चीन के इस रुख से भी यह भी सवाल पैदा होता है कि चीन किस तरह से अपनी बढ़ती ताकत का इस्तेमाल करना चाह रहा है.”

वेल्स ने आगे कहा, “हम चाहते हैं कि एक अंतरराष्ट्रीय व्यवस्था हो जिससे सभी को फायदा हो, ना कि ऐसी वैश्विक व्यवस्था जिसमें चीन का आधिपत्य हो. मुझे लगता है कि इस तरह सीमा विवाद चीन के खतरे के प्रति आगाह करते हैं. चीन की गतिविधियों ने एक तरह की सोच रखने वाले देशों को एकजुट कर दिया है. चाहे वह आसियान देश हों या कूटनीतिक संगठन. अमेरिका, जापान, भारत की तिकड़ी है और ऑस्ट्रेलिया भी हमारे साथ है. पूरी दुनिया में चीन को लेकर बातचीत शुरू हो गई है.”

Related posts
देशमध्य प्रदेश

शिवराज मंत्रिमंडल विस्तार आज, जानें विधायकों की सैलरी

मध्यप्रदेश में आज शिवराज मंत्रिमंडल…
Read more
breaking newsscroll trendingtrendingदेशमध्य प्रदेश

शिवराज मंत्रिमंडल का विस्तार आज, करीब 25 मंत्री ले सकते हैं शपथ

भोपाल: तमाम सियासी समीकरणों के बाद…
Read more
देश

टिक टॉक बैन होने से चीन को होगा अरबों डॉलर का नुकसान! - रिपोर्ट्स

नई दिल्ली- गलवान घाटी में हिंसक झड़प…
Read more
Whatsapp
Join Ghamasan

Whatsapp Group