उत्तर प्रदेशदेश

प्रियंका गांधी के निजी सचिव के खिलाफ FIR दर्ज, बसों की सूची में की धोखाधड़ी!

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार और कांग्रेस के बीच लाॅकडाउन में फंसे श्रमिकों को उनके घर पहुंचाने के लिए बस को लेकर टकराव जारी है। इसी बीच यूपी पुलिस ने कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के निजी सचिव संदीप सिंह और यूपी के कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है। दोनों पर आरोप है कि उन्होंने बसों की सूची भेजने में गड़बड़ी की है।

बता दे कि योगी सरकार का दावा है की जिन बसों की सूची कांग्रेस की ओर से भेजी गई है उसमें कई नंबर, ऑटो, एंबुलेंस और बाइक के भी है। जबकि कुछ बसों के नंबर की पुष्टि नहीं हो पाई। इतना ही नहीं कुछ बसों के नंबर चोरी के वाहन होने की भी आशंका है। ऐसे में लखनऊ के हजरतगंज पुलिस ने धोखाधड़ी की धाराओं में मामला दर्ज किया है।

क्या है मामला

दरअसल, बीते दिनों प्रियंका गांधी ने यूपी में मजदूरों के लिए 1000 बसे देेने का प्रस्ताव राज्य सरकार को दिया था जिस परयोगी सरकार ने स्वीकृती दे दी थी। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार इन बसों को यूपी बॉर्डर पर खड़ा किया गया था लेकिन, यूपी सरकार ने इस प्रस्ताव को ठुकरा दिया था और कहा था कि सरकार की ओर से पर्याप्त मात्रा में बसों का इंतजाम किया जा रहा था। जिस पर प्रियंका ने योगी सरकार को आड़े हाथ लेते हुए कई सवाल उठाए थे। जिसके बाद अब योगी सरकार ने कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के 1000 बसों का प्रस्ताव स्वीकार करते हुए चालक,परिचालक का नाम समेत सूची मांगी थी।

वहीं बसों की इस सूची को लेकर यूपी सरकार का दावा है कि इस सूची में कई नंबर ऐसे हैं जो कि बसों के न होकर ऑटो और अन्य वाहनों के हैं। वहीं इसके बाद से ही योगी सरकार और कांग्रस में जारी जंग और तेज हो गई है।