देश

Corona : उत्तराखंड ऑरेंज जोन घोषित, मरीजों के डबलिंग रेट में भी भारी गिरावट

देहरादून। उत्तराखंड में कोरोना वायरस के मामले तेजी से बढ़ते जा रहे हैं। जिसके चलते राज्य सरकार ने उत्तराखंड को ऑरेंज जॉन घोषित कर दिया है। बता दे कि रविवार को सात जिलों में कोरोना संक्रमित मरीज मिलने के बाद सभी को ऑरेंज घोषित कर दिया गया है। इस संबंध में मुख्य सचिव कुछ उत्पल कुमार सिंह ने आदेश भी जारी कर दिए हैं।

बता दें कि लोग डाउन का चैथा चरण शुरू होने से पहले राज्य सरकार ने केंद्र सरकार की गाइडलाइन के अंतर्गत जिलों को अलग-अलग जोन में बांटा था। उस समय प्रदेश के 6 जिले टिहरी, रुद्रप्रयाग, चमोली, बागेश्वर, पिथौरागढ़ और चंपावत में कोरोना का एक भी मामला था। जिससे चलते यह ग्रीन जोन में शामिल थे।

वही हरिद्वार जिले को रेड जोन से निकालकर ग्रीन जोन में डाल दिया गया था। जबकि ऊधमसिंहनगर, पौड़ी और उत्तरकाशी जिले को ग्रीन जोन से हटाकर ऑरेंज जोन में डाला गया था। देहरादून और अल्मोड़ा जिले भी ऑरेंज जोन में रखे गए थे। रविवार को सरकार ने ग्रीन जोन में शामिल सभी 7 जिलों को और ग्रीन जोन में डाल दिया है ऐसे में पूरा प्रदेश ऑरेंज में आ गया है।

उत्तराखंड में संक्रमित दोगुने होने की दर में भी गिरावट देखी गई है। रविवार को संक्रमण की डबलिंग रेट 4.18 दिन पर पहुंच गई है। रविवार को प्रदेश में 73 नए मरीजों की पुष्टि हुई है। अपर सचिव युगल किशोर पंत के मुताबिक कोरोना के मामले लगातार बढ़ने के कारण डबिंग रेट में कमी आई है। जबकि रिकवरी दर 18.6 फीसदी है। संक्रमित मरीजों को डिस्चार्ज करने के लिए केंद्र की ओर से नई गाइडलाइन भी जारी की गई है जिससे आने वाले दिनों में प्रदेश की रिकवरी रेट भी बढ़ेगा।