देश

किसानों को बड़ी राहत, 14 फसलों पर 83 फीसदी अधिक दाम देगी सरकार

नई दिल्ली। रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में कैबिनेट की एक अहम बैठक हुई। जिसमें कई मुद्दों पर बात हुई। साथ ही सरकार ने कई बड़े फैसले भी लिए हैं। जिसमें लाॅक डाउन के कारण संकट के दौर से गुजर रहे एमएसएमई सेक्टर को राहत देने के लिए 20 हजार करोड़ रुपए के लोन के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई है। साथ ही किसानों के लिए सरकार ने बड़ा ऐलान करते हुए 14 फसलों में 50 से 83 फीसदी तक ज्यादा कीमत देने का फैसला भी लिया है।

कैबिनेट बैठक के बाद पत्रकार वार्ता में केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर मोदी कैबिनेट के फैसलों की जानकारी देते हुए बताया कि न्यूनतम समर्थन मूल्य में बढ़ोतरी की गई है। जो कि किसानों के लिए सरकार की ओर से बड़ा ऐलान है। मक्का के समर्थन मूल्य में 75 फीसदी की वृद्धि की गई है, जबकि तुअर और मूंग के मूल्य में 58 फीसदी की वृद्धि की गई। केंद्रीय मंत्री ने बताया कि 14 फसलें ऐसी है जिसमें किसानों को 50 से 83 अधिक समर्थन मूल्य दिया जाएगा।

कृषि मंत्री ने बताया कि ब्याज छूट योजना के अंतर्गत जो किसान 31 अगस्त तक अपने कर्ज की अदायगी करेगा उसे 4 प्रतिशत ब्याज पर कर्जा दिया जाएगा। फिलहाल सरकार ने किसानों से 360 मैट्रिक टन गेहूं, 95 लाख मैट्रिक टन धान और 16.07 लाख मैट्रिक टन दाल की खरीदी की है।

वहीं केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने इस दौरान कहा कि किसानों की फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य की कुल लागत का डेढ़ गुना अधिक रखने का वादा मोदी सरकार द्वारा पूरा किया जा रहा है। खरीफ फसल 20-21 के 14 फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य जारी किया गया है, जिन्हें 14 फसलों पर 50 से 83 से भी अधिक दाम दिया जाएगा।