मौसम विभाग के अनुसार देश के कुछ एक राज्यों में बारिश की गतिविधि एक बार फिर देखी जा सकती है। मध्य प्रदेश सहित इन राज्यों में तटीय और पर्वतीय क्षेत्रों से बन रहे नए वेदर सिस्टम्स का हल्का प्रभाव देखने को मिल सकता है। मौसम विभाग के अनुसार एम पी सहित जहां इन सभी राज्यों के कुछ एक जिलों में हल्की बूंदा बांदी से लेकर कुछ तेज बारिश तक दर्ज की जा सकती है वहीं देश के विभिन्न्न राज्यों के अधिकतम जिलों में ठंड की उपस्थिति में भी बढ़ौतरी होने की संभावना है। आइए जानते हैं मौसम विभाग की क्या है राय।

Also Read-Live Darshan : कीजिए देशभर के प्रमुख मंदिरों के मंगला दर्शन

मध्य प्रदेश का मौसम

भोपाल मौसम विभाग के अनुसार प्रदेश के कुछ एक जिलों में आने वाले एक से दो दिनों के भीतर बारिश की सामान्य से लेकर कुछ तेज गतिविधि दर्ज की जा सकती है। मौसम विभाग के अनुसार प्रदेश के ग्वालियर और चंबल संभाग के साथ ही राजधानी भोपाल और व्यवसायिक राजधानी इंदौर में आने वाले एक से दो दिन में बारिश की यह गतिविधि दर्ज की जा सकती है। इसके साथ ही मौसम विभाग ने अगले 24 से 48 घंटों में प्रदेश के अधिकतम जिलों में कड़ाके की ठंड का शुरूआती अहसास होने के संकेत दिए हैं।

Also Read-महिला टीचन ने जेंडर बदलकर स्टूडेंट से रचाई शादी, तीन बार खेल चुकी है नेशनल

राजधानी दिल्ली में बढ़ेगी सर्दी

राजधानी दिल्ली के मौसम की बात करें तो आने वाले 24 से 48 घंटों में राजधानी दिल्ली के तापमान में तेजी से गिरावट आने की संभावना है। इसके साथ ही राजधानी दिल्ली के आसमान में कोहरे के मौजूदगी भी दर्ज की जा सकती है, साथ ही दिल्ली और एनसीआर का वायु गुणवत्ता सूचकांक बहुत खराब से खराब श्रेणी में रहेगा।। मौसम विभाग के अनुसार राजधानी दिल्ली के तापमान में उत्तरी इलाकों से आने वाली ठंडी हवाओं का असर अगले एक से दो दिनों में देखने को मिल सकता है।

देश के अन्य राज्यों का मौसम

मौसम विभाग के अनुसार अगले 24 घंटों के दौरान तमिलनाडु और केरल, दक्षिणी अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में हल्की से मध्यम बारिश के साथ एक या दो स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है। इसके साथ ही दक्षिण आंतरिक कर्नाटक तटीय कर्नाटक और रायलसीमा में हल्की बारिश की संभावना है। साथ ही जम्मू कश्मीर और हिमाचल के कुछ एक जिलों के कुछ एक इलाकों में हिमपात संभव है।