भारत में लगातार मौसम में बदलाव देखने को मिल रहा है। इससे लोगों को कई मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। देश का राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में एयर क्वालिटी में गिरावट हो रही है, जिससे पाबंदियों का दौर रही शुरू हो गया है। उत्तर भारत के कई इलाकों में कड़ाके का असर शुरू हो गया है। दक्षिण क्षेत्रों में बारिश का कहर जारी है। इसको लेकर मौसम वैज्ञानिक लगातार चेतावनी जारी कर रहा है। जबकि मध्य भारत में कोहरे और शीतलहर का अलर्ट घोषित किया गया है।

इन इलाकों में चक्रवाती तूफान

मौसम विभाग के अनुसार अंडमान समुद्र पर कम दबाव का क्षेत्र चक्रवाती तूफान में तब्दील हो रहा है। दक्षिण के कई राज्यों में अगले 5 दिन तक भारी से अधिक भारी बारिश की संभावना जताई गई है। वहीं उत्तर भारत में मौसम तेजी से करवट बदल रहा है। 9 राज्यों में आफत की बारिश का पूर्वानुमान जारी किया गया है।

दिल्ली में जहरी हवा

दिल्ला में ठंड बढ़ने के साथ प्रदूषण की मार झेल रहे हैं। दिल्ली की एयर क्वालिटी बेहद खराब है। प्रदूषण से राहत मिलने की भी कोई उम्मीद फिलहाल दिखाई नहीं दे रही है। SAFAR के मुताबिक, आज, 6 दिसंबर की सुबह भी दिल्ली का वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) बेहद खराब श्रेणी में दर्ज किया गया है। दिल्ली का औसत एक्यूआई 337 दर्ज किया गया। इसकी वजह दिल्ली में वायु की रफ्तार धीमी होना है, जिसके कारण प्रदूषक आगे नहीं बढ़ पा रहे हैं। केंद्रीय प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड (CPCB) के मुताबिक, आज राजधानी के कुल 35 एक्यूआई स्टेशन में से 31 का एक्यूआई बेहद खराब श्रेणी में दर्ज किया गया।

मैदानी क्षेत्रों में बर्फबारी

उत्तर प्रदेश बिहार में शीत लहर का अलर्ट जारी कर दिया गया है। बर्फबारी का असर मैदानी इलाके पर पड़ रहा है। उत्तर प्रदेश के मैदान इलाके में लगातार ठंड बढ़ रही है। दक्षिण के राज्य में बारिश हो रही है जबकि पश्चिम उत्तर पश्चिम विक्षोभ वाले कम दबाव के कारण कई क्षेत्रों में बारिश से उत्तर भारत में शीतलहर का दौर शुरू होगा। बिहार के कुछ जिले में दिसंबर के दूसरे सप्ताह में शीतलहर देखने को मिल सकते हैं। वही 6 दिसंबर की शाम को बंगाल की खाड़ी में डिप्रेशन के कारण उत्तर प्रदेश में ठंडी सर्द हवा की दस्तक देखी जाएगी।

Also Read : सरकार का केंद्रीय कर्मचारियों के लिए बड़ा तोहफ़ा, लागू हो सकती हैं पुरानी पेंशन

धुंध और कोहरे ने दी दस्तक

राजस्थान में कई जगह तापमान 6 डिग्री सेल्सियस के नीचे पहुंच गया है। राज्य की राजधानी जयपुर में न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है। कई क्षेत्रों में धुंध और कोहरे की दस्तक तेज हो गई है। सर्द हवा के कारण तापमान में भी कमी देखी जा रही है। अगले सप्ताह जम्मू और कश्मीर पर एक नए चक्रवाती सिस्टम सक्रिय होंगे। जिसका असर राजस्थान और गुजरात के मौसम पर पड़ेगा। वहीं इन क्षेत्रों में हल्की बूंदा बादी देखने को मिल सकती है।

तापमान में गिरावट

दिसंबर के अंतिम सप्ताह तक झारखंड में सबसे ज्यादा सर्दी पड़ने की संभावना जताई गई है। हालांकि दो-तीन दिनों तक दिसंबर में तापमान में गिरावट नहीं देखी जाएगी। मौसम शुष्क बना रहेगा अगले 2 दिन तक तापमान में कोई बड़े बदलाव के संकेत नहीं मिले हैं। रात के तापमान में वृद्धि देखने की भी संभावना है।

Also Read : स्ट्रीट सिंगर गा रहा था ‘पानी दा रंग…’ गाना, आयुष्मान खुराना ने सामने आकर फैन को दिया सरप्राइस, देखें Video

श्रीनगर में शुष्क

जम्मू कश्मीर में मौसम तेजी से बदल रहा है। श्रीनगर में तापमान 3.4 डिग्री सेल्सियस के पार पहुंच गया है मौसम में अब तक सबसे ठंडी रात जैसीनगर में रिकॉर्ड की गई है। समूचे कश्मीर में पारा शून्य के नीचे पहुंचा है। मौसम विभाग के मुताबिक मौसम शुष्क रहने की संभावना है। 8 दिसंबर तक धुंध छाई रहेगी। 9 दिसंबर को एक ताजा पश्चिमी विक्षोभ जम्मू कश्मीर और आसपास के इलाके में सक्रिय होगा। जिसके कारण निचले इलाके में हल्की बर्फबारी की संभावना बढ़ रही है।

उत्तराखंड हिमाचल में भारी हिमपात

उत्तराखंड हिमाचल प्रदेश में भी कई क्षेत्रों में तापमान में भारी गिरावट देखी जा रही है जबकि अन्य क्षेत्र और पर्वतों की चोटी पर तेज बर्फबारी का सिलसिला जारी है। तापमान में गिरावट का दौर जारी रहेगा। मौसम के सितंबर के अगले सप्ताह से बदलने की संभावना जताई गई है।

अगले 5 दिनों तक आफत की बारिश

मौसम विभाग के मुताबिक 8 दिसंबर को तमिलनाडु के विल्लुपुरम मायिलादउतुराई तंजावुर तिरुवरूर पांडिचेरी कराई कल में भारी से अति भारी बारिश की संभावना जताई गई है। मौसम विभाग के पूर्वानुमान के बारे अगले 5 दिनों तक आंध्र प्रदेश रायलसीमा के 2 स्थानों पर अगले 24 घंटे में भारी बारिश देखने को मिलेगी। गरज चमक के साथ आंध्र प्रदेश में भी मध्यम बारिश की संभावना जताई गई है।