मध्यप्रदेश सहित राजस्थान, महाराष्ट्र में जोरदार बारिश, झारखंड-बंगाल में अलर्ट

पश्चिम भारत में बीते दो-तीन दिनों में सावन की झड़ी देखने को मिली। मध्यप्रदेश, राजस्थान, गुजरात व महाराष्ट्र के अनेक हिस्सों में जोरदार बारिश से नदी नाले उफान पर आ गए।

पश्चिम भारत में बीते दो-तीन दिनों में सावन की झड़ी देखने को मिली। मध्यप्रदेश, राजस्थान, गुजरात व महाराष्ट्र के अनेक हिस्सों में जोरदार बारिश से नदी नाले उफान पर आ गए। मौसम विभाग ने अगले दो दिनों में झारखंड व बंगाल समेत पूर्वी राज्यों में बारिश का अलर्ट जारी किया है। वहीं, राजधानी दिल्ली एनसीआर में बूंदाबांदी हो सकती है, लेकिन उमस सताएगी।

बीते 24 घंटों में मप्र, राजस्थान, ओडिशा, छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र के विदर्भ में मध्यम से भारी तथा एक-दो स्थानों पर बहुत भारी बारिश हुई। स्काईमेट के अनुसार इस दौरान पश्चिम बंगाल, कोंकण और गोवा और गुजरात में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ स्थानों पर भारी बारिश हुई। उत्तरी पंजाब में एक या दो स्थानों पर भारी बारिश हुई। वहीं, तटीय कर्नाटक, केरल, आंतरिक तमिलनाडु, मध्य महाराष्ट्र, तेलंगाना, राजस्थान के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश हुई। उत्तर प्रदेश, गुजरात और बिहार में हल्की बारिश और दिल्ली में एक या दो स्थानों पर हल्की बारिश हुई।
गुजरात, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र और राजस्थान के कुछ  क्षेत्रों में आज मध्यम से भारी बारिश हो सकती है। इन इलाकों में बीते दो दिनों में भी अच्छी बारिश हुई। महाराष्ट्र में भारी वर्षा के कारण कुछ जिलों में बाढ़ जैसे हालात हैं। कोल्हापुर में बाढ़ का खतरा पैदा हो गया है। मौसम विभाग ने नागपुर, गढ़चिरौली, चंद्रपुर और वर्धा समेत कुछ जिलों में ऑरेंज अलर्ट जारी किया है।

Also Read – कच्चे तेल के भाव में गिरावट के बीच सस्ता होगा पेट्रोल-डीजल? जानें आज की कीमतें

दिल्ली एनसीआर के कुछ क्षेत्रों में आज हल्की वर्षा के आसार हैं। बादल छाए रहने से गर्मी से फौरी राहत मिल सकती है, लेकिन उमस परेशान करेगी। गुरुवार से शनिवार तक ओडिशा, झारखंड और पश्चिम बंगाल में भी भारी वर्षा की संभावना है। मप्र की तरह ही बीते 24 घंटे में राजस्थान के कई हिस्सों में झमाझम बारिश हुई। बांसवाड़ा, डूंगरपुर और प्रतापगढ़ में तेज वर्षा हुई। अगले एक दो दिन अलग अलग शहरों में वर्षा का अनुमान है।