आबिद कामदार

इंदौर. इंदौर के लोगों का मेहमानों के प्रति आदर सत्कार सबसे अच्छा है, दुनियां के कई देशों में और शहरों में घुमा हूं, लेकिन इस शहर को सबसे अलग कुछ बनाता है तो वह है यहां के लोगों कि मेहमाननवाजी यह बात नीदरलैंड के भारतीय राजदूत मार्टिन वैन डेन बर्ग ने साक्षात्कार के दौरान कही। वह ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में हिस्सा लेने आए है।

एग्रीकल्चर और फूड प्रोसेसिंग की संभावना ज्यादा है

नीदरलैंड ने कृषि के क्षेत्र में काफी तरक्की की है, और मध्य प्रदेश में भी सारी प्राकृतिक और अन्य सुविधाएं उपलब्ध है। जरूरत है तो बस इसे और बेहतर रूप देने की ताकि प्रदेश को कृषि क्षेत्र मे और आगे ले जाया जा सके।

कृषि के अपशिष्ट से बनाएंगे ईंधन

नीदरलैंड की इन्वेस्टमेंट ऑफिसर प्रिया अनिल ने बताया कि नीदरलैंड से ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में 6 कंपनी और 4 सरकारी विभाग के लोग हिस्सा लेने आए है। इन कंपनी ने एग्रीकल्चर में काफी रुचि दिखाई है, यहां कृषि को लेकर काफी संभावनाएं है। यह कंपनी नीदरलैंड में कृषि के अपशिष्ट से ईंधन, फूड प्रोसेसिंग, कृषि उपकरण और अन्य चीजों के प्रोजेक्ट पर कार्य करती है।

कंपनी ने अपनी रुचि दिखाई है जल्द ही सरकार से मिलकर आगे की प्रोसेस शुरू करेंगे

यहां की मिट्टी उपजाऊ होने के साथ प्रदूषण मुक्त है। जो की कृषि के लिए आदि उपयुक्त है, यहां पर कृषि उपकरण भी एक समस्या है, इस पर भी कंपनी बेहतर टेक्नोलॉजी देने के मकसद से रुचि दिखा रही है। यहां की मिट्टी उपजाऊ और प्रदूषण मुक्त है। वहीं अपशिष्ट से ईंधन बनाकर ईंधन पर आने वाले काफी खर्च को बचाया जा सकता है। कंपनी सरकार और विभाग से मिलकर आगे की प्रोसेस शुरू करेगा।