मध्यप्रदेश में 1 रुपए किलो बिक रहा लहसुन, किराया भी नहीं निकाल पा रहे किसान

कृषि उपज मंडी में लहसुन के कम भाव मिलने से किसानों में निराशा  है।

कृषि उपज मंडी में लहसुन के कम भाव मिलने से किसानों में निराशा  है। किसानों ने बताया कि लहुसन  के औसतन दाम से भी कम मिल रहे हैं। मेहनत तो दूर भाडा भी नहीं निकल पा रहा। महज 1 से 4 रुपए प्रतिकिलो बिकने पर लहसुन से किराया भी नहीं निकाल पा रहे हैं। कृषि मंडी में लहसुन की बंपर आवक है। अधिक आवक के चलते दामों में उतार- चढाव देखा जा रहा है। उचित दाम नहीं मिलने से किसानों में नाराजी है, हालांकि गुरुवार को लहसुन के दामों में तेजी रही।

Also Read – काशी की तरह बनेगा वृंदावन कॉरिडोर, बिहारी मंदिर से सीधे यमुना तक काफी चौड़ा होगा रास्ता 

किसानों का कहना है ये तेजी दिखावटी थी। मंडी प्रशासन के आंकडों की मानें तो बुधवार की तुलना में गुरुवार को लहसुन के अधिकतम दामों में 2500 रुपए बढोतरी तो न्यूनतम दामों में 200 रुपए की गिरावट दर्ज की गई। ऊपर से बारिश के मौसम में रखरखाव करना आफत साबित हो रहा है। पानी लगने से उपज खराब हो रही है। व्यापारी क्वालिटी के नाम पर औने- पौने दामों में लहसुन खरीद रहे हैं। किसानों के पास उपज बेचने और फेंकने के अलावा और कोई विकल्प नहीं है।