Breaking News

एथलीन राइपनर केमिकल से फलों को पकाना खतरनाक नहीं है, खाद्य तथा औषधि विभाग का दावा

Posted on: 27 Apr 2019 14:49 by Pawan Yadav
एथलीन राइपनर केमिकल से फलों को पकाना खतरनाक नहीं है, खाद्य तथा औषधि विभाग का दावा

इन दिनों फलों खासकर केलों को चीन से आयातित एथिलीन राई पनर नामक केमिकल से पकाया जा रहा है इस केमिकल को लेकर इंदौर के खाद्य तथा औषधि विभाग का दावा है कि यह केमिकल केलो तथा अन्य फलों को पकाने के लिए खतरनाक नहीं है|

इस बारे में घमासान डॉट कॉम से बात करते हुए खाद्य तथा औषधि विभाग के वरिष्ठ अधिकारी मनीष स्वामी का कहना था कि इन दिनों केलों को तो एथनील से ही पकाया जा रहा है और यह स्वास्थ्य के लिए हानिकारक नहीं है ।

उल्लेखनीय है कि इन दिनों फलों को पकाने के लिए अनिल का जबरदस्त उपयोग हो रहा है और बताया जाता है कि ₹250 की एक बाटल में 7 से लेकर 8 टन तक फलों को पकाया जा सकता है| अब सवाल इस बात का भी है कि पिछले दिनों खाद्य तथा औषधि प्रशासन विभाग की टीम में एक गोदाम पर छापा मार कर कार्रवाई की थी तब गोदाम संचालकों ने बताया था की फलों को पकाने के लिए इसी केमिकल का उपयोग किया जा रहा है|

श्री मनीष स्वामी का यह भी कहना था कि कैल्शियम कार्बाईड केमिकल से पकड़े गए फल प्रतिबंधित है और 1964 में सरकार ने इसके इस्तेमाल पर रोक भी लगा दी है|

Read more : विलुप्त होते अख़बार, महज 3 साल में हो जाएंगे बंद

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com