जबलपुर में आज सुबह आठ बजकर 43 मिनट पर भूस्थानिक केंद्र 22.73 डिग्री उत्तर अक्षांश, 81.11 डिग्री पूर्व देशांतर डिंडोरी में 4.3 तीव्रता का मध्यम भूकंप महसूस किया गया। इस भूकंप का हाइपो सेंटर 10 किलोमीटर गहराई पर रहा। जानकारी के अनुसार डिंडौरी, जबलपुर, मंडला, अनूपपुर, बालाघाट और उमरिया जिले में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए । इसके साथ ही छत्तीसगढ़ के कुछ इलाकों में भी भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए हैं।
अचानक आए इस भूकंप से रहवासियों में दहशत का माहौल बन गया । इस दौरान भूकंप के प्रभाव के इलाकों के लोग अपने-अपने घरों से बाहर निकल आए।

Also Read-Delhi की बेबस हवा हुई जहरीली, वायु गुणवत्ता सूचकांक ‘बहुत खराब’ से ‘गंभीर’ श्रेणी में पंहुचा, सांस लेना भी हुआ दूभर

जबलपुर भूकंप का संवेदनशील जोन

उल्लेखनीय है कि मध्य प्रदेश का जबलपुर जिला भूकंप की गतिविधि के लिए सर्वाधिक उपयुक्त भौगोलिक दृष्टि से माना जाता रहा है। कुछ कुछ समय के अंतराल पर जबलपुर जिले के विभिन्न क्षेत्रो में भूकंप के झटके काफी पहले से महसूस किए जाते रहे हैं। इसी वर्ष 21 जून-2022 को 3.4 तीव्रता का भूकंप जबलपुर में दर्ज किया गया था । वर्ष 22 मई 1997 को जबलपुर में सर्वाधिक खतरनाक भूकंप आया था, जिसकी तीव्रता रिक्टर स्केल पर 6.2 नापी गई थी। इस भूकंप में बड़ी संख्या में लोग हताहत हुए थे।

Also Read-IMD Update : इन जिलों में तेजी से गिर रहा है पारा, जानिए किन राज्यों में अब भी जारी है बारिश

नहीं हुआ जानमाल का नुकसान

आज सुबह ८.४३ बजे आए भूकम्प (रिचटर स्केल पर ४.३) के कारण जबलपुर, डिंडोरी, मंडला, बालाघाट, अनूपपुर, उमरिया में कोई जनहानि या किसी संपति हानि की सूचना स्टेट कमांड एंड कंट्रोल सेंटर को ज़िला कंट्रोल रूम्स से अभी तक कोई सूचना प्राप्त नहीं हुई है।