दिल्ली-एनसीआर की हवा लगातार प्रदूषित होकर अब जहरीली हो चुकी है। दिल्ली-एनसीआर (Delhi-NCR) के अलग-अलग इलाकों में वायु प्रदूषण (Air Pollution) की वजह से सामान्य जन जीवन में मुश्किलें बढ़ी है और साँस लेना भी दूभर हो चुका है । मौसम विभाग के अनुसार राजधानी दिल्ली का वायु गुणवत्ता सूचकांक ‘बहुत खराब’ से ‘गंभीर’ श्रेणी में पहुंच गया है, जिससे राजधानी दिल्ली के हालात बहुत ही चिंता जनक बने हुए है । केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (CPCB) के सर्वेक्षण में दिल्ली में औसत वायु गुणवत्ता सूंचकाक ‘बहुत खराब’ श्रेणी में पिछले शनिवार को 309 दर्ज हुआ था, जोकि अब गंभीर श्रेणी में पहुंच गया है।

Also Read-IMD Update : इन जिलों में तेजी से गिर रहा है पारा, जानिए किन राज्यों में अब भी जारी है बारिश

177 शहरों में से दिल्ली सहित 20 शहरों में जानलेवा वायु गुणवत्ता

इससे पहले बीते शुक्रवार, 28 अक्टूबर 2022 को केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड द्वारा जारी रिपोर्ट में कहा गया है कि देश के 177 शहरों में से 20 शहरों में जानलेवा वायु गुणवत्ता बनी हुई है, जिनमें राजधानी दिल्ली टॉप पर है । इसके साथ ही दिल्ली से लगे एनसीआर जिलों की हवा भी देश की सर्वाधिक प्रदूषित हवाओं वाले क्षेत्र में शामिल है।

Also Read-Live Darshan : कीजिए देशभर के प्रमुख मंदिरों के मंगला दर्शन

राजधानी दिल्ली के निवासियों के लिए खतरा

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड द्वारा जारी रिपोर्ट के अनुसार दिल्ली में वायु गुणवत्ता जहरीली और जानलेवा बनी हुई है, जोकि राजधानी दिल्ली में रहने वाले करोड़ों लोगों के स्वास्थ्य के लिए बहुत ही ज्यादा खतरनाक सिद्ध हो सकता है। बहुत खराब से गंभीर श्रेणी में परिवर्तित हुए राजधानी दिल्ली के मौसम में प्रदूषित हवा की वजह से सांस लेना भी दूभर होता जा रहा है। हवा में घुले जहर की वजह से दिल्ली के निवासियों के फेफड़े और शरीर के अन्य आंतरिक हिस्सों को काफी ज्यादा नुक्सान पंहुच सकता है।