नवरात्रि में भूलकर भी ना करें ये काम, अधूरी रहेगी पूजा | Do not do this work in Navratri

0
153
navratri

आज यानी गुड़ीपड़वा से हिंदू नववर्ष की शुरुआत हो गई है। आज ही के दिन से चैत्र नवरात्रि भी प्रारंभ हो गए है। हिंदू धर्म में इसका काफी महत्त्व है। नवरात्रि 6 अप्रैल से शुरू होकर 14 अप्रैल तक चलेंगे। इन नौं दिनों भक्त माता के पूजा-अराधना के साथ ही व्रत भी रखते है। ऐसे में यदि आपको माता रानी को अपनी भक्ति से खुश करना है तो इन नौं दिनों में आपको कुछ नियमों का पालन करना होगा। अगर आप ऐसा सोच रहे है तो भूलकर भी ये 10 काम इन दिनों में ना करें।

must read: नवरात्रि: पूजा में जरुर शामिल करें ये चीजें | Navratri: Pooja Samagri list

ये है वो 10 काम-

  • यदि आप नवरात्रि में कलश स्थापना करते है और अखंड ज्योत जलाते है तो आप भूलकर भी नौं दिनों में अपने घर को खाली ना छोड़े।
  • यदि आप व्रत रखते है तो खाने में प्याज लहसून और नॉन वेग ना खाएं।
  • यदि आप नौं दिन व्रत रखने का फल पाना चाहते है तो रहमचार्य व्रत का पालन अवश्य करें। इसके साथ ही इन दिनों में गंदे बिना धुले हुए कपड़े नहीं पहनने चाहिए।
  • विष्णु पुराण के अनुसार नवरात्रि में व्रत रखने वाले व्यक्ति को दिन में नहीं सोना चाहिए। इसके साथ ही तंबाकू चबाने और शारीरिक संबंध बनाने से भी व्रत का फल नहीं मिलता है।
  • व्रत करने वाले व्यक्ति को फलाहार एक ही जगह पर बैठकर करना चाहिए।
  • व्रत के दौरान नौ दिनों तक खाने में अनाज और नमक का सेवन नहीं करना चाहिए। व्रत खोलते समय कुट्टू का आटा, समारी के चावल, सिंघाड़े का आटा, साबूदाना, सेंधा नमक, फल, आलू, मेवे, मूंगफली का सेवन करें।
  • नवरात्रि में पूजा के दौरान यदि आप दुर्गा चालीसा या दुर्गा सप्तशती का पाठ करते है तो बीच में किसी से बात न करें। ऐसा करने से पूजा का फल नकारात्मक शक्तियों में बदल जाता है।
  • माता रानी को प्रसन्न करने के लिए ब्रम्हमुहूर्त में स्नान करके मां का पूजन करना चाहिए। माना जाता है कि सूर्योदय से पहले पूजा करने से माता रानी प्रसन्न होती है और मनोकामनाएं पूरी करतीं हैं।
  • नवरात्रि के दौरान मां के नौ स्वरूपों की उनके अनुसार पूजा करके उनके अनुरूप ही उन्हें भोग लगाना चाहिए।

must read: नवरात्रि: वास्तु सम्मत बातों को ध्यान रखें,फल में होगी वृद्धि

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here