करौली में कल से खुलेंगे कोर्ट और सरकारी दफ्तर, कर्फ्यू रहेगा जारी

शांति समिति की बैठक के बाद यह निर्णय हुआ कि सोमवार से सरकारी ऑफिस और कोर्ट खोले जाएंगे. सरकारी कर्मचारी वकील अपना आईडी दिखा कर जा सकते हैं. 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं भी निर्धारित शेड्यूल के अनुसार करवाई जाएंगी, स्टूडेंट परमिशन लेटर एडमिट कार्ड दिखाकर परीक्षा देने जा सकेंगे. इंटरनेट सेवा पर रोक जारी रहेगी, इन सभी चीजों के छूट के बीच शहर में कर्फ्यू जारी रहेगा.

राजस्थान। करौली शहर में नव वर्ष की शुरूआत पर हिंदू संगठनों की ओर से निकाली गई बाइक रैली पर पथराव कर दिया गया था जिसके बाद यहां उपद्रव जैसे हालात निर्मित हो गए थे, जिसके चलते प्रशासन ने कर्फ्यू घोषित कर दिया था. रविवार सुबह पुलिस ने पूरे शहर में फ्लैग मार्च किया. नियंत्रित स्थिति को देखते हुए कलेक्टर राजेंद्र सिंह शेखावत ने सोमवार से सरकारी ऑफिस कोर्ट और बोर्ड परीक्षाएं करवाने का आदेश दिया है. इंटरनेट सेवा पर 4 अप्रैल तक रोक रहेगी.

शनिवार को भड़की हिंसा में 35 से अधिक दुकानों में आग लगा दी गई थी साथ ही शहर के फूटाकोट चौराहे पर एक मकान को भी आग के हवाले कर दिया गया था. बुरा बतासे वाली गली में स्थित कटले में 70 में से 20 दुकानें आग की चपेट में आ गई थी, बुरा बतासे की गली में 5, गोमती कॉलोनी में 3 दुकानें चपेट में आई थी. दो बाइकों में आगजनी के साथ ही 1 दर्जन से अधिक बाइक में तोड़फोड़ की घटना भी देखी गई.

Must Read- Yami Gautam का इंस्टाग्राम अकाउंट हुआ हैक, फैंस को सावधान रहने की दी सलाह

शांति समिति की बैठक के बाद यह निर्णय हुआ कि सोमवार से सरकारी ऑफिस और कोर्ट खोले जाएंगे. सरकारी कर्मचारी वकील अपना आईडी दिखा कर जा सकते हैं. 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं भी निर्धारित शेड्यूल के अनुसार करवाई जाएंगी, स्टूडेंट परमिशन लेटर एडमिट कार्ड दिखाकर परीक्षा देने जा सकेंगे. इंटरनेट सेवा पर रोक जारी रहेगी, इन सभी चीजों के छूट के बीच शहर में कर्फ्यू जारी रहेगा.

नव संवत्सर पर हुए उपद्रव के मामले में अब तक 13 लोगों को गिरफ्तार कर एफआईआर दर्ज की गई है, वही 20 लोगों को शांति भंग के आरोप में गिरफ्तार किया गया है. शहर में 15 पॉइंट बनाए गए हैं जहां पर 1200 से अधिक अधिकारी और पुलिस के जवान ड्यूटी पर हैं. जांच के लिए एसआईटी ने एसएफएल की मदद से सबूत उठा लिए हैं जिनकी जांच की जा रही है, पुलिस मामले पर लगातार नजर बनाए हुए हैं.

शांति समिति की बैठक के बाद मिली जानकारी से पता लगा है कि जांच के दौरान एक घर की छत पर पत्थर मिले हैं, पुलिस ने इस घर को खाली करवा कर चिन्हित कर दिया है. सोमवार को एक बार फिर सूचना केंद्र टाउन हॉल में शांति समिति की बैठक आयोजित की जाएगी.

लोगों की जरूरत को देखते हुए दोपहर 3:00 से 5:00 तक रसद विभाग ने घर-घर जा जैसी बस सप्लाई किया. सोमवार को सुबह 8:00 से 10:00 बजे तक को दूध और सब्जी का सप्लाई किया जाएगा. प्रशासन द्वारा डेयरी और अन्य जरूरी दुकानदारों को पास जारी किए थे, लेकिन पुलिस फिर भी कई दुकानदारों को रोकती दिखाई दी.

पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों ने सांसद डॉ मनोज राजोरिया करौली विधायक लाखन सिंह नगर परिषद सभापति प्रतिनिधि अमीनुद्दीन खान के साथ दंगा प्रभावित क्षेत्रों का दौरा कर नुकसान का जायजा लिया है. शांति समिति की बैठक में सांसद ने जिला प्रशासन को कुछ बिंदुओं पर सुझाव भी दिए हैं, इस बैठक में प्रमुख राजनीतिक दल और शहर के गणमान्य लोग मौजूद थे. आमजनों ने लगातार पुलिस प्रशासन पर लापरवाही के आरोप लगाए हैं, लेकिन कलेक्टर राजेंद्र सिंह शेखावत ने जल्द ही स्थिति नियंत्रण में आने का आश्वासन दिया है.