कोपेनहेगन शहर दुनिया का रहने के लिए सबसे अच्छा शहर की यात्रा

0
64

श्रीमती प्रतिभा राठौर की कलम से

कोपनहेगन डेनमार्क की राजधानी और यहाँ का सबसे बड़ा शहर है, जिसकी नगरीय जनसंख्या लगभग 27 लाख है। कोपेनहेगन शहर जीलण्ड और अमागर नामक द्वीपों पर बसा हुआ है। हाल ही अच्मे रहने की सुविधा से विश्व के सबसे अच्छे शहरों के सर्वे में कोपेनहेगन शहर को प्रथम स्थान मिला था. कोपनहेगन को बारम्बार एक ऐसे नगर के रूप में पहचान मिली है जहाँ का जीवन स्तर विश्व में सर्वश्रेष्ठ में से एक है। यह दुनिया के सबसे पर्यावरण-अनुकूल नगरों में से एक माना जाता है। एक और सर्वे में कोपेनहेगन एवं डेनमार्क को दुनिया में सबसे ज्यादा खुशहाल माना गया है. 50 किमी के रेडियस में 27 लाख लोगों के साथ, कोपनहेगन उत्तरी यूरोप के सबसे सघन जनसँख्या वाले क्षेत्रों में से एक है। नॉर्डिक देशों में कोपनहेगन सर्वाधिक घुमे जाने वाला देश है जहाँ पर 2014 में 4 करोड़ से भी अधिक विदेशी पर्यटक आए थे ।

लन्दन के हीथ्रो एअरपोर्ट से 1 घंटा 50 मिनट की फ्लाइट लेकर हम कोपेनहेगन के कास्ट्रप इंटरनेशनल एअरपोर्ट पर पहुंचे. यहाँ से सिटी सेंटर पहुँचने में हमें 40 मिनट लग गया. पहले दिन हमने होटल में चेक-इन करने के बाद सिटी सेंटर एरिया में पैदल ही घूमना बेहतर समझा.

हमने यहाँ घूमते हुए यह देखा की यहाँ चाहे कोई अमीर हो या गरीब यहाँ लगभग 35: लोग अपने दैनिक जीवन के कार्यो के लिए सायकल से आते जाते है. यानी की प्रतिदिन 20 लाख किमी की साइकिल यात्रा यहाँ की जाती है। पुरे कोपेनहेगन में हमें साइकिले ज्यादा दिखी एवं चार पहिया वाहन कम दिखे.
यहाँ घुमने लायक जगहे-

  1. ‘द ब्रिज‘ – स्वीडन के लोग इसे झ्तमेनदकेइतवद कहते हैं और डेनमार्क के लोग क्रतमेनदकेइतवमद कहते है. दुनिया के कई लोग इसे सिर्फ श्द ब्रिजश् के नाम से जानते हैं.

यह नाम कई पुरस्कार जीत चुके उस नॉर्डिक नोयर ड्रामा से लिया गया है जिसका मंचन 100 से ज्यादा देशों में हो चुका है.यह पुल विशाल है. 82 हजार टन वजन का यह पुल 204 मीटर लंबे धातु के दो खंभों पर टिका है. यह समुद्र सतह के ऊपर भी है और नीचे भी. सुरंग सहित इसकी लंबाई 16 किलोमीटर है और यह यूरोप के सबसे बड़े पुलों में से एक है. यह पुल स्वीडन के तीसरे सबसे बड़े शहर माल्मो को डेनमार्क की राजधानी कोपेनहेगन से जोड़ता है. इसने ओरेसंड की खाड़ी में लंबी नौका यात्रा या विमान सेवा की जरूरत को खत्म कर दिया है.

  1. टिवोली गार्डन दृ यह सिटी सेन्ट्रल स्टेशन के काफी नजदीक है एवं बहुत बड़ा ।उनेमउमदज च्ंता है. यहाँ से एतिहासिक सिटी हाल नजदीक है. यहाँ के बड़े बड़े रोलर कोस्टर से पुरे शहर का अद्भुत नजारा दिखता है.
  2. क्रिश्चियनबोर्ग पेलेस दृ लगभग 800 वर्ष पुराने इस एतिहासिक पेलेस में वर्तमान में प्रधानमंत्री कार्यालय, डेनिश संसद, सुप्रीम कोर्ट एवं अन्य शासकीय कार्यालय है. इस महल का कुछ एरिया टूरिस्ट के लिए ओपन है एवं देखा जा सकता है.
  3. राउंड टावर- यह एक 36 मीटर ऊंचाई का एतिहासिक गोल टावर है जिसका निर्माण 1642 में तात्कालिक डेनिश राज्य के किंग द्वारा एक वेधशाला के रूप में किया गया था. बाद में यह एक ज्योतिष सेंटर के रूप में परिवर्तित हो गया था. वर्तमान में यह एक म्यूजियम की तरह तारामंडल एवं खगोल विज्ञानं की जानकारी विजिटर को दे रहा है.
  4. अमेलिनबोर्ग का किला- लगभग 600 वर्ष पुराना यह किला कोपेनहेगन के चार अन्य महत्वपूर्ण किलो में से एक है. इस किले में 1789 में आग लग गई थी एवं रिनोवेशन के बाद वर्तमान में यहाँ पर रॉयल फेमिली की परंपरागत सोल्जर सेरेमनी आयोजित की जाती है.

कोपेनहेगन में हाल के वर्षों में पर्यटन उद्योग का यहाँ की अर्थव्यवस्था में काफी महत्व बढ़ा है। वर्ष 1999 में 30 लाख विदेशी पर्यटक डेनमार्क आए थे, जिनमें से एक तिहाई यानी 10 लाख जर्मन थे। वस्तुत पर्यटन उद्योग से प्राप्त होने वाला राज्स्व 10 अरब अमेरिकी डॉलर से भी अधिक हो गया है.

  1. डेनमार्क का राष्ट्रीय संग्रहालय, कोपेनहेगन, डेनमार्क

कोपेनहेगेन में डेनमार्क के राष्ट्रीय संग्रहालय (डेनमार्क) में डेनमार्क के सांस्कृतिक इतिहास का सबसे बड़ा संग्रहालय है, जिसमें डेनिश और विदेशी संस्कृतियों के इतिहास शामिल हैं। राष्ट्रीय संग्रहालय सभी डेनमार्क के लिए संग्रहालय है, जहां आप डेन के इतिहास का वर्तमान दिन से नीचे का पालन कर सकते हैं। और आप दुनिया भर में ग्रीनलैंड से दक्षिण अमेरिका तक जा सकते हैं.

संग्रहालय का मुख्य अधिवास एक शास्त्रीय 18 वीं शताब्दी की हवेली है जो कोपेनहेगन के केंद्र में “स्ट्रोजेट” से एक पत्थर का फेंक रहा है। संग्रहालय की मुख्य इमारत कोपेनहेगन के केंद्र में स्ट्रोजेट से थोड़ी दूरी पर स्थित है। इसमें दुनिया भर के प्रदर्शन, ग्रीनलैंड से दक्षिणी अमरीका तक प्रदर्शित होते हैं.

संग्रहालय में कई राष्ट्रीय प्रतिबद्धताएं हैं, विशेषकर निम्नलिखित प्रमुख क्षेत्रों मेंरू पुरातत्व, मानव विज्ञान, सिक्का, नृवंशविज्ञान, प्राकृतिक विज्ञान, संरक्षण, संचार, डेन्मार्क के चर्चों के संबंध में पुरातात्त्विक गतिविधियों का निर्माण, और साथ ही डेनफेड (राष्ट्रीय खजाने)

इस संग्रहालय में डैनिश इतिहास के 14000 वर्ष शामिल हैं, बर्फ आयु, वाइकिंग्स के रेनडिअर-शिकारी, और मध्य युग से धार्मिक कला का काम करता है, जब चर्च डेनिश जीवन में अत्यधिक महत्वपूर्ण था। वाइकिंग के समय से डेनिश सिक्कों वर्तमान और प्राचीन रोम और ग्रीस से सिक्के, साथ ही सिक्का और अन्य संस्कृतियों की मुद्राओं के उदाहरण भी प्रदर्शित होते हैं। राष्ट्रीय संग्रहालय डेनमार्क का सबसे बड़ा और सबसे विविध संग्रह ग्रीस और इटली, पूर्व और मिस्र के प्राचीन संस्कृतियों से वस्तुओं का संग्रह करता है। उदाहरण के लिए, इसमें वस्तुओं का एक संग्रह है, जिन्हें 1 9 57 में इराक में टेल शेमशरा के डेनिश खुदाई के दौरान पुनर्प्राप्त किया गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here