कांग्रेस ने किया BDS चुनाव का बहिष्कार कहा- लोगों को अंधेरे में रखकर लिया गया फैसला

जम्मू-कश्मीर में आगामी दिनों में बीडीएस (Block Devlopment Council) होना है। जिसका कांग्रेस ने विरोध किया है और चुनाव का बहिष्कार करने का ऐलान किया है। पार्टी द्वारा लिए गए इस फैसले के पीछे कांग्रेस का तर्क है कि लोगों को अंधेरे में रखकर ये फैसला लिया है।

0
29
Ghulam Ahmed Mir

जम्मू। जम्मू-कश्मीर में आगामी दिनों में बीडीएस (Block Devlopment Council) होना है। जिसका कांग्रेस ने विरोध किया है और चुनाव का बहिष्कार करने का ऐलान किया है। पार्टी द्वारा लिए गए इस फैसले के पीछे कांग्रेस का तर्क है कि लोगों को अंधेरे में रखकर ये फैसला लिया है।

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष गुलाम अहमद मीर ने कहा कि ‘लोगों को अंधेरे में रखकर 6 मिनट में यह फैसला लिया गया है। कांग्रेस पार्टी ने इसका विरोध किया है क्योंकि लोगों को विश्वास में नहीं लिया गया है। जिस तरह से हजारों की तादाद में लोगों को जेलों में डाला गया, हाउस अरेस्ट किया गया यह गलत है।’

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, ‘पिछले साल चुनाव का पहला फेज हुआ। कहते हैं कि एक चिड़िया नहीं मरी, लेकिन हुआ क्या? आज जिस तरीके से बीडीसी का चुनाव रखा गया है, 73वें संशोधन का पूर तरह से इस्तेमाल नहीं किया गया है। इस चुनाव को लेकर किसी की राय नहीं ली गई है। कांग्रेस पार्टी चुनाव से कभी नहीं भागी, चाहे कैसे भी हालात हों। हमने कोशिश की कि इस चुनाव में हिस्सा लें चुनाव आयोग और सरकार बताया कि हम चुनाव में हिस्सा लेना चाहते हैं लेकिन जो हमारे नेता हैं उनको छोड़िए ताकि लोगों को सही तरीके से प्रचार करें.लेकिन ऐसा नहीं किया है।’

गुलाम अहमद ने कहा, ‘मैं खुद 55 दिनों तक नजरबंद रहा था. हमने अपील की कि हमारे मुख्य नेताओं को चुनाव क्षेत्र में जाने दो। लेकिन नहीं किया गया। फिर हमें लगा कि ये चुनाव एक पार्टी को सहूलियत देने के लिए किया जा रहा है, इससे ज्यादा शोषण नहीं हो सकता है एक राष्ट्रीय पार्टी का।’

मीर ने कहा, हमने पहले 4 दिनों में कोशिश की थी, मगर सरकार की तरफ से कोई महत्व नहीं दिया गया। इसलिए हमें आपके सामने चुनाव का बहिष्कार करने का ऐलान करना पड़ रहा है।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here