Indore उड़ेगा रंग गुलाल, रंगपंचमी पर निकलेगी परंपरागत गेर

इंदौर (Indore) में दो वर्षों बाद रंगपंचमी (Rangpanchami) के अवसर पर परंपरागत गेर का आयोजन किया जाएगा। इसकी तैयारियों में आयोजक जुट गए है।

इंदौर :  इंदौर (Indore) में दो वर्षों बाद रंगपंचमी (Rangpanchami) के अवसर पर परंपरागत गेर का आयोजन किया जाएगा। इसकी तैयारियों में आयोजक जुट गए है। बता दें, कि कोरोना के कारण (coronavirus) बीते दो वर्षों से गेर का आयोजन नहीं हो रहा था लेकिन इस वर्ष यह परंपरागत गेर निकलेगी और रंग गुलाल में लोग सराबोर होंगे।

बदले मार्ग से निकलेगी गेर

इंदौर में निकलने वाली गेर rang panchami ger indore का मार्ग परंपरागत रहता है लेकिन इस बार गेर बदले हुए मार्ग से निकाली जाएगी। इसके पीछे कारण राजवाड़ा क्षेत्र में मलबा होना है। राजबाड़ा से प्रशासन ने अतिक्रमण encroachment  हटाया है तथा इस कारण मलबा पड़ा हुआ है। इसलिए गेर राजबाड़ा क्षेत्र से नहीं निकलेगी। कलेक्टर मनीष सिंह का कहना है कि जो स्थिति अभी राजबाड़ा क्षेत्र की है उससे गेर का मार्ग बदलना पड़ेगा। हालांकि कलेक्टर का यह भी कहना है कि आयोजकों से इस संबंध में चर्चा की जाएगी।

Must Read : होली पर धन प्राप्ति , व्यापार में सफलता और दुर्घटना से बचाव के लिए जरूर करें ये उपाय 

सीएम की घोषणा से उल्लास

बता दें कि कोरोना के कारण बीते दो वर्षों से रंग पंचमी पर गेर नहीं निकल सकी थी लेकिन इस बार सीएम शिवराजसिंह चौहान CM Shivraj Singh Chouhan  की घोषणा के बाद शहरवासियों के साथ ही गेर निकालने वाले आयोजकों में उल्लास है। मुख्यमंत्री चौहान ने यह घोषणा की थी कि कारेाना का असर बहुत कम हो गया है इसलिए नागरिक उत्साह के साथ होली रंग पंचमी मनाए। इतना ही  नहीं शिवराज ने स्वयं ही गेर निकालने की भी घोषणा कर दी थी।

क्या होगा मार्ग –

रंग पंचमी पर गेर का मार्ग टोरी कार्नर से लोहार पट्टी, इतवारिया बाजार, नरसिंह बाजार शीतला माता बाजार, गोराकुंड चौराहा तक पहुंचेगी और यही से खजूरी बाजार तक जाएगी।

अधिकारी कर चुके है दौरा

इंदौर के अधिकारियों ने बीते दिनों गेर मार्ग का दौरा कर व्यवस्थाएं बनाने का निर्देश instructions for making arrangements अपने मातहतों को दिए है।

सामाजिक समरसता social harmony का संदेश – 

यहां उल्लेखनीय है कि इंदौर की होली और रंग पंचमी Holi and Rang Panchami of Indore का उल्लास अन्य शहरों की अपेक्षा कुछ ज्यादा ही रहता है। रंग पंचमी पर गेर का एक ऐसा आयोजन है जो इसमें शामिल और निकलने वाले इलाकों को मस्ती के रंग में रंग देता है वहीं सामाजिक समरसता का भी संदेश इस आयोजन से मिलता है।