मध्य प्रदेश में लंबे समय से स सरकारी नौकरी की तैयारी कर रहे युवाओं के लिए अच्छी खबर है. न्यू इयर और क्रिसमस गिफ्ट के तौर पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सरकार ने सरकारी नौकरी की सीधी भर्तियों में आयुसीमा को लेकर बड़ा फैसला लिया है. इससे प्रदेश के हजारों युवाओं को फायदा होगा जो सरकारी नौकरी की तैयारी कर रहे थे.

इन पदों के लिए हुआ फैसला

अब मध्य प्रदेश में पुलिस और वन विभाग में होने वाली वर्दीधारी की भर्ती यानी जवानों की जॉब के लिए उम्र सीमा में छूट दी गई है. जारी किए गए आदेश के अनुसार अब वर्दीधारी पदों पर भर्ती की आयु सीमा में 3 साल छूट मिलेगी. इसमें पुलिस और वन विभाग के पुलिस आरक्षक, सब इंस्पेक्टर, वनरक्षक समेत सभी वर्दीधारी पदों को शामिल किया गया है.

केवल पहली भर्ती में मिलेगी छूट

ये नियम दिसंबर 2023 तक जारी सिर्फ पहले विज्ञापन के लिए लागू होगा. यानी आयुसीमा में छूट केवल हर पद की पहली वैकेंसी के लिए मिलेगा. ऐसा फैसला सरकार ने कोरोना काल में रुकी भर्तियों के कारण लिया है. कोविड के कारण 3 साल से नियमित भर्ती नहीं हो पाई थी. इस कारण प्रदेस के युवा लगातार भर्तियों में आयुसीमा के छूट की मांग कर रहे थे. अब इस फैसले के बाद बड़ी संख्या में बेरोजगारों को एक और मौका मिलेगा. प्रदेश में अभी तक सीधी भर्ती के लिए अधिकतम आयु सीमा 35 साल थी. इस आदेश के बाद मिलने वाली छूट के अनुसार अब संबंधित भर्तियों में 38 साल तक के यूवा परीक्षाओं में भाग ले सकेंगे. ऐसे में उन हजारों बेरोजगारों को राहत मिलेगी जो सालों से सरकारी नौकरी की तैयारी कर रहे थे. लेकिन, कोरोना काल में रुकी भर्तियों के कारण उनके हाथ से समय फिसल गया.