भूपेश बघेल ने RSS पर साधा निशाना, बोले- संघ की वेशभूषा और वाद्ययंत्र भारतीय नहीं

0
bhupesh baghel

नई दिल्ली। देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू की जयंती पर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि संघ की वेशभूषा और वाद्ययंत्र भारतीय नहीं है। दरअसल, मुख्यमंत्री बघेल रायपुर में नेहरू जयंती पर एक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने कहा कि जिस हिटलर और मुसोलिनी को आरएसएस के लोग आदर्श मानते हैं, जिससे प्रेरणा लेकर यह काली टोपी और खाकी पैंट पहनते हैं और ड्रम बजाते हैंै। यह ना ही भारत की वेशभूषा है और न ही यहां का वाद्ययंत्र है।

सीएम बघेल कहा कि जिस मुसोलिनी से मिलने के लिए दुनियाभर के नेता तरसते थे। वह मुसोलिनी नेहरू जी से मिलना चाहते थे, किंतु नेहरूजी नहीं मिले। उन्होंने कहा कि आज जो लोग नेहरू जी का कद कम करना चाहते हैं, दरअसल वह लोकतंत्र को कमजोर करना चाहते हैं। वह नेहरू जी का कद इसलिए कम करना चाहते हैं, क्योंकि उन्होंने जो लकीर खींची थी उस लकीर तक पहुंचना उनके लिए दूर की बात है. इसलिए वह कद कम करने की कोशिश करते हैं।