मणिपुर में आगजनी से सांप्रदायिक तनाव का माहौल, इंटरनेट सेवा बंद

मणिपुर के बिष्णुपुर जिले में आगजनी से सनसनी का महौल बन गया हैं। यह मामला सांप्रदायिक को बिगाड़ने का बताया जा रहा हैं।

मणिपुर के बिष्णुपुर जिले में आगजनी से सनसनी का महौल बन गया हैं। यह मामला सांप्रदायिक को बिगाड़ने का बताया जा रहा हैं। पूरी घटना बिष्णुपुर में कुछ शरारती तत्वों ने वैन में आग लगा दी। इस घटना में एक समुदाय के तीन से चार युवकों ने अंजाम दिया हैं। आग लगाने के बाद पूरे मणिपुर राज्य में मोबाइल डेटा सर्विस निलंबित कर दी गई। आगजनी की घटना के बाद हालत को काबू करने के लिए प्रशासन की ओर से अगले दो महीने के लिए चुराचांदपुर और बिष्णुपुर जिलों में धारा 144 लगा दी गई है।

Also Read : अण्डमान निकोबार : पोर्ट ब्लेयर में बिक रहा है सबसे सस्ता पेट्रोल, कीमत सिर्फ 84.10 रुपये पर लीटर

सूचना के अनुसार, मणिपुर के बिष्णुपुर में वैन को आग के हवाले करने वाले युवक एक खास समुदाय के थे, जिसके बाद से पूरे राज्य में सांप्रदायिक तनाव की स्थिति बन गई है। राज्य में तनाव की स्थिति को देखते हुए सरकार ने इंटरनेट सेवा सस्पेंड करने का फैसला लिया। वैन में आग लगाने की घटना के बाद से सोशल मीडिया के जरिए लोगों को भड़काने के लिए तरह-तरह के मैसेज वायरल होने लगे, जिसके बाद मोबाइल इंटरनेट सर्विस को 5 दिन के लिए बाधित कर दिया गया है।

 

इन जिलों धारा 144 लागू

मणिपुर में तनाव को देखते हुए सरकार ने अगले दो महीने के लिए चुराचांदपुर और बिष्णुपुर जिलों में धारा 144 लगाने का फैसला लिया है। सरकार की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि इस घटना की वजह से सांप्रदायिक तनाव पैदा हो गया है। इतना ही नहीं कुछ शरारती तत्व लोगों को भड़काने के लिए भड़काऊ बयानों और मैसेज को प्रसारित करने लिए सोशल मीडिया का इस्तेमाल कर रहे हैं, जिसके बाद अगले 5 दिन के लिए मोबाइल डेटा सर्विस को बंद रप दिया हैं। सरकार ने साफ तौर से कहा है कि आदेश का उल्लंघन करने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।