संघर्ष से अंशुमन ने म्यूजिक में बनाई अलग पहचान, देखें वीडियो

उत्तराखंड (Uttrakhand) की वादियों में एक बहुत ही खूबसूरत, सहज, शांत पर्यटक स्थल पर रहने वाले, देवों की भूमि से संस्कार लेकर सहजता के साथ संगीत की स्वर लहरियों से जीवन को संगीत के लिये समर्पित करने वाले इस युवा की दास्तां बड़ी ही दिलचस्प है।

आज हम आपको खूबसूरत, सहज, शांत पर्यटक स्थल पर रहने वाले एक युवा की दिलचस्प कहानी सुनाने जा रहे हैं। जी हां संगीत की स्वर लहरियों से जीवन को संगीत के लिये समर्पित करने वाले अंशुमन तिवारी मात्र 25 साल के है उन्होंने 25 साल की उम्र में ही अपनी काफी ज्यादा पहचान बना ली है। वह लोफी और रांझा लोफी को अपना सबसे पसंदीदा मानते हैं।

Must Read : Russia-Ukraine : यूक्रेन में युद्ध के बीच रूस में Apple ने सेल रोकी, इन ऐप्स को भी App Store से हटाया

बता दे, वह छोटी उम्र, बड़े अनुभव, बेहतरीन व्यक्तित्व वाले इंसान है। दरअसल, प्यारे गीत संगीत की मधुर स्वर लहरियों के साथ अपनी सांसों में म्यूजिक की धुन लिए ये अंशुमान जॉलीग्रांट रानीपोखरी देहरादून उत्तराखंड के रहने वाले हैं। वह एक गिटारवादक, संगीतकार, लेखक के रूप में आज सभी के बीच अपनी पहचान बना चुके हैं। ऐसे में सबसे ज्यादा वह लोफी और रांझा लोफी को अपना पसंदीदा मानते हैं।

आपको बता दे, अंशुमन का कहना है कि उन्हें जब कोई बोलता है कि तुम्हारा गाना हमको बहुत पसंद है तो उत्साह वर्धन होने लगता है। अब अंशुमान बस यही चाहते है कि संगीत कैरियर में अच्छे-अच्छे गीतों को रिलीज कर सुर संगीत के साथ लोगों के दिलों के करीब पहुंचना है।

ये है उनके सांग्स की लिंक्स –

Shayad (LOFI) : https://open.spotify.com/track/6gGVLPnXBGvvc60oUSdNqc

Ranjha (LOFI) : https://open.spotify.com/album/0yuvAAgA7C7721nAQ5eArm