19 विपक्षी सांसदों ने राज्यसभा में किया हंगामा, 1 सप्ताह के लिए सदन से बर्खास्त

राज्यसभा के 19 सांसदों पर संसद सदन में हंगामा करने का और सदन की कार्यवाही में बाधा डालने का का आरोप लगाते हुए 1 सप्ताह के निलंबन की कार्यवाही की गई है। वहीं विपक्ष के द्वारा इस संबंध में सरकार पर महंगाई और बेरोजगारी से ध्यान भटकाने का आरोप लगाया जा रहा है।

राज्यसभा (Rajya Sabha) के 19 सांसदों पर संसद सदन में हंगामा करने का और सदन की कार्यवाही में बाधा डालने का का आरोप लगाते हुए 1 सप्ताह के निलंबन की कार्यवाही की गई है। गौरतलब है की संसद का मानसून सत्र अभी चल रहा है, जिसमें विपक्षी दलों के सांसदों के द्वारा देश में बढ़ती महंगाई, बेरोजगारी और जीएसटी (GST) को लेकर विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है। इसके साथ ही ईडी की कार्यवाही को लेकर भी विपक्षी दलों के सांसदों में आक्रोश देखा जा रहा है। जानकारी के अनुसार पिछले सोमवार को भी चार कांग्रेसी सांसदों को सदन से अस्थाई रूप से निलंबित किया गया था।

Also Read-सैन फ्रांसिस्को : मार्क जुकरबर्ग ने बेचा 1928 में बना मकान, 10 साल पहले खरीदा था 80 करोड़ रुपये में

इन सासंदों को किया गया 1 सप्ताह के लिए निलंबित

राज्यसभा में हंगामे को लेकर उपसभापति ने 19 सांसदों को निलंबित कर दिया। इन सांसदों के नाम मोहम्मद अब्दुल्ला, एए रहीम, एल यादव , वी वी. शिवादासन, सुष्मितादेव, डॉ शांतनु सेन, डोला सेन, शांता छेत्री, अबीर रंजन विश्वास, नदीमुल हक हैं। इसके साथ जिन कांग्रेसी सांसदों को सोमवार को निलंबित किया गया था उनके नाम हैं -मणिक्कम टेगोर, टीएम प्रतापन, ज्योतिमणी, रम्या हरिदास।

Also Read-इंग्लैंड : कॉमनवेल्थ गेम्स में नहीं चलेगा नीरज चोपड़ा का भाला, चोट के कारण लिया नाम वापस

विपक्ष के द्वारा महंगाई और बेरोजगारी से ध्यान भटकाने का सरकार पर आरोप

जहां सांसदों पर मानसून सत्र में सदन में हंगामा करने के बाद निलंबन की कार्यवाही हुई है, वहीं विपक्ष के द्वारा इस संबंध में सरकार पर महंगाई और बेरोजगारी से ध्यान भटकाने का आरोप लगाया जा रहा है। विपक्षी सांसदों का कहना है कि सरकार इन मुद्दों पर अपनी विफलता की चर्चाओं से बचने का प्रयास कर रही है।