शेयर बाजार में 10 साल की सबसे बड़ी इंट्रा-डे तेजी, सेंसेक्स 1850 अंक उछला

0
205
share bazar

मुंबई। अमेरिकी ब्याज दरें घटाने के फैसले से खुश नहीं है। इतना ही नहीं, कच्चे तेल के बढ़ते दामों के बीच बाजार में हलचल देखी जा रही है। इसी बीच वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने काॅरपोरेट टैक्स में 22 प्रतिशत की कटौती करने का ऐलान किया है। इस ऐलान के बाद शेयर बाजार में जबर्दस्त उछाल देखा गया। सेंसेक्स 1639 अंकों उछाल के साथ 37733 अंकों पर पहुंच गया था, जबकि निफ्टी में 477 अंकों की बढ़त देखी गई। इससे पहले शुक्रवार को कारोबारी सत्र के अंतिम दिन बाजार हरे निशान पर खुला। सेंसेक्स 121 अंकों की तेजी के साथ 36214 अंकों कारोबार कर रहा था, जबकि 42 अंक उछलकर 10746 अंक पर पहुंच गया था।

Sensex-nifty-share-bazar


अमेरिकी फेडरल रिजर्व द्वारा ब्याज दरों में कटौती का असर भारतीय शेयर बाजार पर देखा जा रहा है। शेयर बाजार लगातार दूसरे दिन हरे निशान में खुला, लेकिन कुछ ही पल में लाल निशान में पहुंच गया। कारोबार के अंत में सेंसेक्स 470 अंक टूटकर 36093 अंकों पर बंद हुआ, जबकि निफ्टी 135 अंक नीचे आकर 10704 अंकों पर बंद हुआ।

कारोबार सत्र के दौरान करीब 11.52 बजे शेयर बाजार ने पिछले तेजी के सभी रिकॉर्ड तोड़ते हुए नया कीर्तिमान बना दिया। दोहपर करीब 12.15 बजे सेंसेक्स 1866 अंक की जबर्दस्त तेजी के साथ 37960 के स्तर पर पहुंच गया। इसी समय निफ्टी में भी रिकॉर्ड बढ़ोतरी देखी गई और यह 528 अंक की तेजी के साथ 11233.10 के स्तर पर पहुंच गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here