सर्दी के मौसम में ज्यादातर लोग फैट बढ़ने की शिकायत करते हैं. क्योंकि ज्यादातर लोगों को इस बात का पता नहीं है कि जितनी आसानी से सर्दी के मौसम में फैट बढ़ता है, इस मौसम में स्लिम होना भी उतना ही आसान है. इसके लिए आपको सिर्फ अपनी डायट पर ध्यान देने की जरूरत है और कुछ छोटी-छोटी बातों का ध्यान रखना है. फिर देखें, कैसे हाड़तोड़ एक्सर्साइज किए बिना आप अपनी मनचाही स्लिम-ट्रिम बॉडी पा लेंगे.

कैसे आसान है सर्दी में वजन घटाना?

सर्दी में वजन घटाना किसी भी और मौसम की तुलना में इसलिए अधिक आसान है क्योंकि इस सीजन में आपकी खुद की बॉडी कुछ ऐसे बायॉलजिकल बदलावों से गुजर रही होती है, जो कैलरी बर्न करने का काम करते हैं. जितनी तेजी से कैलरी बर्न होती है, उतनी तेजी से बॉडी में जमा फैट भी बर्न होता है. क्योंकि बॉडी अपने इमरजेंसी फूड का बैकअप फैट के रूप में स्टोर करके रखती है.

शरीर को सर्दी में अपना नॉर्मल टैंप्रेचर मेंटेन करने के लिए अधिक मात्रा में हीट जनरेट करनी पड़ती है. इसके लिए हार्ट को अधिक पंप करना पड़ता है और ब्लड प्रेशर को मेंटेन रखा जाता है, इससे मेटाबॉलिज़म फास्ट होता है और इस दौरान अधिक मात्रा में कैलरी बर्न होती हैं. इसलिए आप जो खाते हैं, उसका यूज आपकी बॉडी कर लेती है. ऐसे में यदि आप थोड़ी-सी एक्सर्साइज कर लें तो वो फैट बर्न होगा, जो आपकी बॉडी में पहले से जमा है.

करे योग या वाक

सर्दी का असर दूर करने के लिए आप ढेरों मोटे कपड़े पहनने की जगह वॉक करें, एक्सर्साइज करें और योग करें. ऐसा करने से बॉडी में हीट जनरेट होगी और पहले से जमा बॉडी फैट मक्खन की तरह पिघल जाएगा. साथ ही अधिक कपड़े पहनने की जरूरत भी नहीं पड़ेगी.

सर्दी में किस कारण बढ़ता है फैट?

सर्दी में शरीर को गर्म रखने के लिए ज्यादातर ऐसा भोजन खाया जाता है, जिसमें घी, मक्खन सहित अधिक कैलरी वाले फूड्स का यूज होता है. जैसे गुड़, चीनी, मावा इत्यादि. इन चीजों को यदि अधिक मात्रा में खाया जाए और फिजिकली ऐक्टिव ना रहा जाए तो फैट बढ़ने लगता है. जबकि यदि आप 40 मिनट की वॉक या 30 मिनट की एक्सर्साइज हर दिन करें और दिनभर फिजिकली ऐक्टिव रहें तो इस फैट को बढ़ने से रोक सकते हैं, साथ ही पहले से जमा बॉडी फैट को लूज कर सकते हैं.

बहुत अधिक मेहनत किए बिना सर्दियों में पतला होने का एक और तरीका है और वो ये है कि आप हर दिन कम से कम 30 मिनट नैचरल लाइट में जरूर समय बिताएं. सूरज की रोशनी में रहें या धूप में बैठें. ऐसा करने से मेटाबॉलिज़म ठीक रहता है और बॉडी में हॉर्मोन सीक्रेशन सही बना रहता है, जिससे बॉडी ब्लोटिंग की समस्या नहीं होती और मोटापा घटाने में मदद मिलती है.