एक दिल को दहला देने वाली खबर सामने आई हैं, जिसमें एक महिला को दूसरी बार शरीरिक संबंध बनाने से मना करने कीमत उस महिला को अपनी जान देकर चुकानी पड़ी. बेड पर ही आरोपी पुरुष ने अपनी ही पत्नी का गला दबाकर उसको मौत के घाट उतार दिया. और फिर इसी मामले में अपने छोटे भाई की सहायता से बाइक सवार होकर बोरे में अपनी मृत पत्नी के शव को रखकर किसी दूसरे जिले के जंगल में फेंक आया.

दरअसल ये पूरा मामला उत्तर प्रदेश के अमरोहा नगर का बताया जा रहा हैं. जहां एक महिला ने दूसरी बार फिजिकल होने से साफ़ मन कर दिया था. जिससे गुस्साए युवक ने अपनी पत्नी को बेरहमी से मौत के सुला दिया. साथ ही इस पुरे मर्डर को छुपाने के लिए लाश को बोरे में भरकर मुरादाबाद के जंगलों में फेंक आया. और ये ही नहीं, आरोपी युवक ने बड़ी ही चतुराई अमरोहा के नगर कोतवाली में अपनी पत्नी की गुमशुदगी की भी रिपोर्ट लिखवा दी. उधर लावारिस डेडबॉडी मिलने की जांच हुई तो मुरादाबाद पुलिस आरोपी तक जा पहुंची. फिलहाल पुलिस आरोपी से पूछताछ कर कानूनी कार्रवाई में जुटी है. अमरोहा नगर कोतवाली इलाके में एक बेकरी संचालक जावेद (बदला हुआ नाम) ने 5 दिसंबर की सुबह तकरीबन 4 बजे सुबह पत्नी शबाना (बदला हुआ नाम) से संबंध बनाए. लेकिन थोड़ी देर बाद जब आरोपी ने दूसरी बार संबंध बनाने की बात कही तो पत्नी ने मना कर दिया जिससे गुस्साए पति ने उसका गला दबा के मौत के घाट उतारा।

दूसरी बार संबंध बनाने की बात पर हुआ झगड़ा

आरोपी युवक और उसकी पत्नी के बीच हुए झगड़े से गुस्साए आरोपी जावेद ने अपनी ही पत्नी का रस्सी से गला दबाकर पत्नी को मौत के घाट उतार दिया. फिर लाश को प्लास्टिक के बोरे में भरकर अपने भाई की सहायता से अपनी बाइक से मुरादाबाद जनपद के गांव रतूपुरा में जंगल किनारे सड़क पर फेंक आया, और फिर वापस आकर अमरोहा नगर कोतवाली में पत्नी की मिसिंग रिपोर्ट दर्ज करा दी.

Also Read – साल के आखिरी माह में बुध ग्रह का गोचर, इन राशियों को कर देगा मालामाल

प्लास्टिक के बैग में मिली डेडबॉडी

हालही में सड़क पर प्लास्टिक के बोर में पैक लाश को देख ग्रामीणों ने मुरादाबाद पुलिस को इसकी सूचना दी. पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मृतक महिला के शव की पहचान के लिए कई जनपदों में शव की तस्वीर भेजी. पुलिस आसपास के जिलों से ऐसी महिलाओं का ब्यौरा भी एकत्रित कर रही थी, जिनकी हाल ही में लापता हुई महिलाओं की रिपोर्ट की जानकारी ली.

गुनेहगार तक ऐसे पहुंची पुलिस गुनेहगार

इसी केस की कड़ी में अमरोहा कोतवाली में शबाना की मिसिंग रिपोर्ट की बात सामने आई. फोटो मिलाया गया तो बोरे में बंद लाश अमरोहा नगर कोतवाली इलाके की रहने वाली शबाना का निकला. उसके बाद जब मुरादाबाद पुलिस ने मृत महिला के पति से जब सवाल किए तो उसने अपना गुनाह स्वीकार करते हुए पुलिस को बताया कि ये उक्त घटना में उसने अपने छोटे भाई फैसल (बदला हुआ नाम) की मदद ली थी. पुलिस ने फिलहाल दोनों आरोपियों को जेल भेज दिया.

मृतिका की मां ने भी दी शिकायत

सीओ सिटी विजय कुमार राणा ने बताया कि थाना कोतवाली नगर के मोहल्ला मोहम्मदी सराय की रहने वाली नजमा खातून ने भी शिकायत दी थी कि बेटी शबाना बिना बताए कहीं चली गई थी.जिससे इसी केस में यह जानकारी प्राप्त हुई कि 5 दिसंबर को थाना ठाकुरद्वारा के ग्राम रतूपुरा (जिला मुरादाबाद) के जंगल में एक प्लास्टिक के बंद बैग से एक लाश बरामद हुई है. लाश की पहचान शबाना के रूप में हुई. इसी बीच, मृतक के भाई ने एक केस थाना नगर कोतवाली में दर्ज कराया. पुलिस ने अपनी तत्परता दिखाते हुए इस पूरे मामले का खुलासा कर दिया. इस मामले में मृतका के पति और उनके देवर को जेल भेज दिया हैं. आरोपियों के कब्जे से वह बाइक भी बरामद हुई है, जिस पर रख कर वो आरोपियों ने शव को जंगल में ले जाकर फेंका था.