गुरुवार को संयुक्त राष्ट्र में डिबेट के दौरान पाकिस्तान के प्रतिनिधि के द्वारा कश्मीर का मुद्दा उठाया गया। इसके बाद भारत के द्वारा पाकिस्तान को साफ़ शब्दों में इस विषय के लिए लताड़ लगाई है। भारत की ओर से कहा गया है कि पाकिस्तान के द्वारा बहुपक्षीय मंचों का बुरी तरह से दुरूपयोग किया जा रहा है। इसके साथ ही भारत के द्वारा पाकिस्तान पर झूठी बातों के असफल संप्रेषण के आरोप लगाए गए हैं। संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA) में संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) की बैठक के दौरान संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी मिशन प्रतीक माथुर ने पाकिस्तानी प्रतिनिधि के द्वारा कश्मीर का मुद्दा उठाने की निंदा की और साथ ही कहा कि ‘ कश्मीर भारत का शाश्वत और अभिन्न हिस्सा है, जिसे अलग नहीं किया जा सकता है।

Also Read-MP Weather : इन जिलों में पहनना पड़े गर्म कपड़े, इतने संभागों में मौसम विभाग का कड़ाके की सर्दी का पूर्वानुमान

संयुक्त राष्ट्र में भारत की स्थायी प्रतिनिधि राजदूत ने कही ये बात

संयुक्त राष्ट्र में भारत की स्थायी प्रतिनिधि राजदूत रुचिरा कंबोज ने UNGA में G4 को लेकर भाषण दिया। इस दौरान उन्होंने यूएनएससी में समान प्रतिनिधित्व पर प्रस्ताव करीब 40 साल पहले 1979 में महासभा के एजेंडा में शामिल किए जाने की बात कही और कहा की आज चार दशक के बाद भी यह मुद्दा उपेक्षित है और कोई प्रभावी कार्यवाही इस विषय पर अबतक नहीं हो पाई। इसके साथ ही उन्होंने इस उपेक्षा को दुर्भाग्य पूर्ण भी बताया। समान प्रतिनिधित्व और संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की सदस्यता में विस्तार तथा सुरक्षा परिषद से जुड़े अन्य मुद्दों पर संयुक्त राष्ट्र महासभा की बैठक में जी-4 की ओर संयुक्त राष्ट्र में भारत की स्थायी प्रतिनिधि राजदूत रुचिरा कंबोज ने अपनी ये बातें सामने रखीं।

Also Read-Live Darshan : कीजिए देश भर के प्रमुख मंदिरों के शुभ दर्शन