उज्जैन: नागदा की ग्रेसिम फैक्ट्री में गैस रिसाव, प्लांट में मची अफरा-तफरी

भोपाल। उज्जैन के नागदा में स्थित ग्रेसिम फैक्ट्री में आज यानी बुधवार दोपहर को गैस रिसाव से भगदड़ मच गई। बता दें कि, यह हादसा आज ग्रेसिम के एसिड प्लांट नंबर-1 में हुआ है। दरअसल, शाम करीब 4 बजे प्लांट के ओलियम इवेपोरेटर के मेंटनेंस के दौरान वॉल्व फट गया। इस इवेपोरेटर का मेंटनेंस शनिवार से किया जा रहा है। बताया जा रहा है कि, ड्रेन वॉल्व की सफाई करते वक्त यह फट गया। इससे 45 मिनट तक गैस रिसाव होता रहा। इसके बाद इसे नियंत्रित कर लिया गया।

ALSO READ: शेर को गोद मे लेकर सड़को पर दौड़ी लड़की, देखें यह दिलदहला देने वाला वीडियो

साथ ही नागदा एसडीएम आशुतोष गोस्वामी ने कहा कि सल्फर ट्राय ऑक्साइड गैस बादलों की तरह फैल जाती है। इस वजह से इसे कंट्रोल करने में 45 मिनट का वक्त लग गया। वॉल्व दो इंच का होने से अधिक प्रेशर से गैस का रिसाव हुआ। गैस निकलते देख फैक्ट्री और शहर में हड़कंप मच गया। उन्होंने बताया कि, शहर में लोग घरों में दुबक गए। जो लोग बाहर थे, वो मास्क और मुंह पर कपड़ा बांधकर निकले। फैक्ट्री प्रबंधन की बड़ी खामियां इसमें उजागर हुई है। इसकी सूचना भी जिला उद्योग अधिकारी को दे दी गई है।

एसडीएम आशुतोष गोस्वामी ने बताया कि, मजदूरों व अन्य कर्मचारियों से यूनिट को खाली करा लिया गया। यह गैस धुआं बनकर शहर के कई क्षेत्रों में प्रवेश कर गई। इससे रहवासियों को भी सांस लेने में परेशानी हुई। जिसके बाद अब मामले की जांच के लिए उज्जैन से अधिकारियों का दल नागदा के लिए रवाना हो गया। हालांकि राहत की बात यह है कि, अभी तक किसी की जान जाने या हादसे की सूचना नहीं है।

ग्रेसिम उद्योग जनसंपर्क अधिकारी संजय व्यास ने बताया कि फैक्ट्री में दोपहर 3 बजे सल्फर ट्राई ऑक्ससाइड गैस का रिसाव हुआ है। फिलहाल, कारणों का पता नहीं लग पाया है। घटना की सूचना पर उद्योग के जनसेवा अस्पताल को अलर्ट कर दिया गया है। गैस हानिकारक नहीं है। इसका असर चंद मिनटों के लिए रहता है।