मध्यप्रदेश के दमोह में प्यार में धोके नशे की गिरफ्त में आने का मामला सामने आया है. सोमवार को देर रात एक युवक लहूलुहान हालत में सड़क पर पड़ा मिला. पुलिस ने उसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया, जहां होश आने पर पर उनसे पुलिस के सवालों का जवाब दिया और खुद को इस तरह से घायल करने का कारण प्यार में मिला धोखा और ड्रग्स को बताया. हालांकि इसके बाद वो इलाज के दौरान ही अस्पताल से भाग गया.

सड़क किनारे मिला था युवक

वीआईपी रोड पर रात्री गश्त कर रहे पुलिस कर्मियों को सड़क किनारे एक युवक पड़ा मिला, जिसके शरीर पर कई निशान थे और खून बह रहा था. पुलिसकर्मियों ने उसे जिला अस्पताल पहुंचाया. युवक की शिनाख्त शहर के शोभनागर निवासी देवेश रैकवार के रूप में हुई है. अस्पताल में होश में आने देवेश ने बताया कि उसने खुद ही अपने शरीर पर चाकुओं से वार किए हैं.

Also Read – सुनील शेट्टी के घर जल्द ही गूंजेगी शहनाई, इस क्रिकेटर संग शादी के बंधन में बंधने जा रही अथिया

देवेश ने पुलिस को बताया कि उसे प्यार में धोखा मिल इसकारण उसने ये कदम उठाया है. जब पुलिस ने पूछा की शरीर पर कई जख्म देने का साहस कहां से आया तो नशे के बारे में बताया. बता दें पुलिस को उसकी जेब से कुछ पाउडर और बोनफिक्स मिला है, जिससे वो नशा करता था. जिला अस्पताल के डॉक्टर के मुताबिक देवेश हैवी ड्रग एडिक्ट है. जब उसे अस्पताल लाया गया वो नशे की हालत में था. उसकी जेब से नशे की चीजें भी मिली हैं, जो बेहद हानिकारक है. लंबे समय तक इसका उपभोग करने से यह मोत का कारण भी बन सकता है .

शहर में चल रहा नशे का कारोबार

युवक के पास से जो नशे का सामान मिला है. वो आसानी से नहीं मिल सकता है और शरीर को भारी नुकसान पहुंचाता है. लेकिन, जिस तादात में युवक के जेब से सब मिला है. इससे साफ लग रहा है कि शहर में ये सब बड़ी आसानी से उपलब्ध है. दमोह में लंबे समय से ड्रग्स और नशे के दूसरे कारोबार को लेकर चिंता जताई जा रही है. इसे लेकर कई वारदातें और घटनाएं सामने आती रहती है.