आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे ‘बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे’ का लोकार्पण, दिल्ली से चित्रकूट की यात्रा होगी 6 घंटे में

आज 16 जुलाई को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे का लोकार्पण किया। बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे ट्रैन के चलने के बाद दिल्ली और चित्रकूट की दुरी लगभग 630 किलोमीटर ही रह जाएगी।पहले जहां 10-12 घंटे का सफर दोनों स्टेशनों के बीच था, वहीं अब 6 से 7 घंटे के बीच यह ट्रैन उक्त सफर तय करेगी।

बहुप्रतीक्षित बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे (Bundelkhand Expressway) का निर्माण पूरा हो चुका है। आज 16 जुलाई को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) द्वारा बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे का लोकार्पण किया जाएगा। इस दौरान प्रधानमंत्री मोदी के द्वारा देश की जनता को सम्बोधित भी किया जाएगा। बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे से दिल्ली से लेकर चित्रकूट तक का सफर तय होगा। बुंदेलखंड क्षेत्र के लोगों को इस बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे की सौगात देने की तैयारी बहुत समय से की जा रही थी जोकि अब जाकर पूरी हुई है। बुंदेलखंड के स्थानीय लोगों को इस बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे से काफी सुविधा होने वाली है।

Also Read-*ब्रिटेन के प्रधानमंत्री की दौड़ में सबसे आगे ऋषि सुनक, बोरिस जॉनसन कर रहे हैं विरोध

दिल्ली से चित्रकूट की दूरी रह जाएगी 630 किलोमीटर, पहले थी 700 किलोमीटर

बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे के लोकार्पण के बाद दिल्ली और चित्रकूट की दुरी लगभग 630 किलोमीटर ही रह जाएगी। बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे के लोकार्पण के  पहले दिल्ली और चित्रकूट के बीच की दुरी 700 किलोमीटर थी। इसके साथ ही एक्सप्रेस एक्सप्रेस वे  होने के कारण समय की भी काफी बचत यात्रा करने वाले यात्रियों की होगी। पहले जहां 10-12 घंटे का सफर था, वहीं अब 6 से 7 घंटे के बीच यह सफर तय होगा ।

Also Read-शेयर बाजार : इन कंपनियों को रुपया गिरने से है फायदा, डॉलर में कमाते हैं बड़ा लाभ

इन जिलों के नागरिकों को मिलेगा विशेष लाभ

बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे के निर्माण से चित्रकूट, बांदा, महोबा, हमीरपुर और जालौन के निवासी  सबसे अधिक लाभान्वित होंगे। दिल्ली तक का सफर कम समय में पूरा होने से उन्हें विशेष सुविधा होगी। सफर की दुरी घटने से  समय की काफी बचत होगी और पहले से काफी कम समय में उक्त जिलों के नागरिक दिल्ली तक का सफर आसानी से कर सकेंगे। जानकारी के अनुसार बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे  में सुविधाओं में भी पहले से कहीं अधिक बढ़ौतरी की गई है।