मध्यप्रदेश के इन जिलों में होगी बारिश, कही जगहों पर आंधी के साथ दस्तक दे सकता है तूफान

मौसम विभाग ने कई जिलों में अंधी भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। जिलों में कई जगहों पर बौछारें पड़ने की संभावना है तो मानसून ट्रफ के होने की वजह सभी कही जगहों पर बारिश की संभावना जताई है।

मध्यप्रदेश में जहा मौसम का रुख बदल रहा है तो वहीं अब मौसम में बड़ा परिवर्तन देखने को मिला है। 8 सितंबर तक प्रदेश में कहीं जगह भारी बारिश का अनुमान लगाया है। लेकिन मौसम विभाग ने 5 जिलों के लिए भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। प्रदेश में कई स्थानों पर तेज बारिश की आशंका जताई है तो कई जगहों पर बिजली गिरने की भी संभावना व्यक्त की है।

मौसम पूर्वानुमान

मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार जबलपुर, रीवा, शहडोल, ग्वालियर, सागर, भोपाल, चंबल में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। इसके साथ ही भोपाल, ग्वालियर, नर्मदापुरम, चंबल संभाग के जिलों के साथ जबलपुर, टीकमगढ़, नरसिंहपुर, छिंदवाड़ा, मंडला, बालाघाट, सिवनी व निमाड़ी में गरज चमक के साथ आकाशीय बिजली गिरने की चेतावनी जाहिर की है।

Must Read- Weather News Update : बाढ़ से निढाल हुआ Bengaluru, पॉश कॉलोनियों में चल रही NDRF की नावें, सड़कों पर बही कारें

बीते 24 घंटे की स्थिति

बीते 24 घंटे के अनुसार कर बात की जाए तो इंदौर संभागों के जिलों में अधिकांश स्थानों पर रीवा, नर्मदापुरम, सागर, जबलपुर एवं भोपाल संभाग के कई जगहों पर बारिश हुई। तो वहीं उज्जैन, चंबल, ग्वालियर सहित कई स्थानों पर मौसम सामान्य रहा। हालांकि बताया जा रहा है कि मध्यप्रदेश में 12 सितंबर तक कई जिलों में झमाझम बारिश होगी, इसके बाद मानसून कही स्थानों पर पुनः दस्तक दे सकता है।

बन रहा है मानसून ट्रफ

मध्यप्रदेश में मौसम 2 रूप ले रहा है जी हां आपको बता दें कि मौसम में आगे और भी कई परिवर्तन देखने को मिलेंगे। क्योंकि छत्तीसगढ़ में दक्षिणी हिस्से में व उसके आसपास के ऊपरी भाग में मानसून चक्रवात बना हुआ। जिससे तमिलनाडु के दक्षिणी पूर्वी हिस्से के मध्य एक ट्रफ लाइन बन गई हैं। जिससे मध्यप्रदेश के कुछ हिस्सों में तेल बारिश का असर बना हुआ है और कही जगहों पर भारी बारिश का कहर भी जारी है।

48 घन्टे बाद शिफ्ट होगा मानसून

मौसम विभाग के अनुसार प्रदेश के मौसम का बदलाव कुछ समय से लगातार जारी है। लेकिन मानसून ट्रफ का पूर्वी छोर 48 घंटे बाद अपना स्थान बदल कर दक्षिण की ओर जा सकता है। लेकिन मौसम विभाग के मुताबिक 7 सितंबर के आसपास मध्यपूर्व बंगाल की खाड़ी के ऊपर कम दबाव क्षेत्र बनने की संभावना है। इससे प्रेदेश के कई हिस्सों में झमाझम बारिश होगी।